एस एस धोनी और साउथ अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी गैरी कस्टर्न

गैरी कस्टर्न (Garry Kirsten) साल 2011 की वर्ल्ड चैंपियन भारतीय टीम का हिस्सा थे

नई दिल्ली. साल 2011 में भारत (India) की वर्ल्ड चैंपियन टीम के कोच रहे गैरी कस्टर्न (Garry Kirsten) ने हाल ही में अपने उस अनुभव को साझा किया. उन्होंने बताया कि टीम में हर तरह के खिलाड़ी थे और सभी पर घर में हो रहे वर्ल्ड कप (ICC World Cup) को जीतने का दबाव था. हालांकि एम एस धोनी (MS D honi) की कप्तानी और गैरी की कोचिंग में शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम ने यह खिताब अपने नाम किया. धोनी को महान कप्तान मानने वाले कस्टर्न ने उनके रिटारमेंट को लेकर बड़ा बयान दिया है. कस्टर्न के मुताबिक धोनी को अपने रिटायरमेंट के फैसले के लिए किसी की जरूरत नहीं है.

धोनी खुद करें रिटायरमेंट का फैसला
धोनी (MS Dhoni) के रिटायरमेंट को लेकर चर्चा चल रही है. कई दिग्गजों का कहना है कि धोनी को अब युवाओं को मौका देने के लिए रिटायरमेंट का ऐलान कर देना चाहिए. हालांकि कस्टर्न का मानना है कि धोनी यह फैसला तब लें जब उन्हें सही लगे. कस्टर्न (Garry Kirsten) ने कहा, ‘एम एस धोनी शानदार क्रिकेटर हैं. वह शांत है, उनमें ताकत है रफ्तार है और आज भी मैच जिताने की उनकी श्रमता उन्हें इस समय के महान खिलाड़ियों के साथ खड़ा करता है. धोनी ने यह हक हासिल किया है कि वह अपनी शर्तों पर रिटायरमेंट लें और किसी को इस मामले में उन्हें सलाह देने की जरूरत नहीं है.

सचिन के साथ काम करना सबसे आसानवर्ल्ड कप के अपने अनुभव के बारे में बात करते हुए कस्टर्न ने कहा कि सभी खिलाड़ियों में से सचिन तेंदुलकर के काम करना उनके लिए सबसे आसान था. कस्टर्न ने माना की साल 2008 से 2011 तक भारतीय टीम के साथ काम करना उनके जीवन के शानदार अनुभव में शामिल है. कस्टर्न ने कहा, ‘सचिन के साथ काम करना सबसे आसान था. कोहली साल 2011 में प्रतिभाशाली क्रिकेटर थे और उसी के दम पर आज दिग्गजों में शामिल हो गए हैं. मैंने टीम इंडिया के साथ काम करने का पूरा मजा उठाया और यह सबसे शानदार अनुभव में से था. भारत में खेले जा रहे वर्ल्ड कप में सभी खिलाड़ियों पर खिताब जीतने का दबाव था और सभी ने बखूबी इसे पूरा किया.’

भारतीय बैडमिंटन की ‘अपराजित’ चैंपियन, विवादों से लड़ने के बाद एक गुमनाम चोट ने खत्म कर दिया करियर

टी20 वर्ल्ड कप के आयोजन पर आईसीसी ने उठाया ये कदम, आईपीएल पर बड़ा खतरा मंडराया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: May 29, 2020, 8:49 AM IST

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *