सचिनंदुलकर भारत के महान बल्लेबाजों में शामिल है

शेन वॉर्न (शेन वार्न) सचिन (सचिन तेंदुलकर) को 12 टेस्ट मैच में केवल तीन बार आउट किया गया।

नई दिल्ली। क्रिकेट की दुनिया में सचिन तेंदुलकर (सचिन तेंदुलकर) को भगवान माना जाता है। वह खिलाड़ी जिसकी बल्ले से दुनिया के सबसे बेहतरीन और नामुमकिन से दिखने वाले रिकॉर्ड निकले। उन्होंने कहा कि मुश्किल का सामना करने वाले व्यक्ति ने चुनौती दी। सचिन के करियर में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज शेन वॉर्न (शेन वार्न) के साथ उनकी क्रिकेट की जंग बहुचर्चित थीं। वीवीएस लक्ष्मण (वीवीएस लक्ष्मण) ने ऐसे ही एक मैच के बारे में बताते हुए खुलासा किया कि कैसे एक टेस्ट मैच में सचिन चार रन बनाकर आउट हुए और फिर खुद को कमरे में बंद कर लिया था।

एक घंटे तक सचिन ने खुद को किया था बंद
वर्ष 1998 में भारत औ 1998 ऑस्ट्रेलिया के बीच एमए चिदंबरम स्टेडियम में मैच खेला जा रहा था।
लक्ष्मण ने क्रिकेट कनेक्टेड कार्यक्रम में कहा, ‘चेन्नई टेस्ट के लिए तेंदुलकर (सचिन तेंदुलकर) ने काफी मेहनत की थी। हालांकि पहली पारी में वह केवल चार रन बनाकर ही आउट हो गए थे। उन्होंने सिर्फ एक चौका लगाया था और फिर अगले गेंद पर मार्क टेलर के हाथों कैच आउट हो गए थे। आलिमन ने आगे बताया कि सचिन (सचिन तेंदुलकर) अपनी इस पारी से इतनी दुखी थे कि उन्होंने खुद को फीजियो के कमरे में एक घंटे के लिए रखा। बंद कर लिया गया था। लक्ष्मण ने कहा, ‘जब वह बाहर आया तो उनके लाल थे। मैं समझ गया था कि वह काफी निराश हैं इसलिए बहुत भावुक हो गए हैं। ‘ ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 328 बनाकर 71 रनों की लीग ले ली थी। भारत ने दूसरी पारी में 418 रन बनाए थे जिसमें सचिन की नाबाद 155 रनों की पारी शामिल थी। उन्होंने पहली पारी की पूरी तरह से काम किया दूसरी पारी में पूरी की पूरी थी। उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

लक्ष्मण ने कहा, ‘दूसरी पारी में, सचिन ने शानदार पारी खेली और शेन वॉर्न का बल्ला सामना किया। । वॉर्न क्रीज की गहराई का इस्तेमाल कर रहे थे, लेकिन सचिन मिड ऑफ और मिड-ऑन पर गेंद को हिट करते थे और उन्होंने फिर से रन बनाए। वॉर्न के साथ उनका मुकाबला चल रहा है। ‘ वॉर्न 12 टेस्ट मैचों में केवल 3 बार तेंडुलकर को आउट कर पाए गए।

दुनिया में इस प्रतिद्वंद्वी की दीवानी है
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली दुनिया के महान बल्लेबाज सचिनंदुलकर की बैटिंग तकनीक की तारीफ की है। ली ने एक टीवी कार्यक्रम में बताया कि सचिन दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न के सामने भी इतने मजबूत थे कि वह उन्हें मनचाही जगह पर शॉट लगा रहे थे। सचिन और वॉर्न जब खेलते थे तो उनके बीच की जंग बहुचर्चित हुई थी। अब ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने भी मान लिया है कि इस जंग में लिटिल मास्टर की होती थी।

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। देखिए क्रिकेट से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 30 अप्रैल, 2020, 9:07 AM IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। सिर्फ 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *