नई दिल्‍ली: ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो ने WHO पर “वैचारिक पूर्वाग्रह” का आरोप लगाकर पर इससे बाहर निकलने की धमकी दी है. इतना ही नहीं COVID -19 के लिए ड्रग हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के क्‍लीनिकल ट्रायल्‍स को निलंबित करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की आलोचना की है. ऐसी प्रतिक्रिया तब आई है जब हाल ही में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रम्‍प ने डब्‍ल्‍यूएचओ से संबंध खत्‍म करने की बात कही थी. 

बता दें कि लैटिन अमेरिका में महामारी का प्रकोप जमकर रहा है, विशेष रूप से ब्राजील में. कोरोना वायरस के कारण इस देश में दुनिया की तीसरी सबसे ज्‍यादा मौतें हुई हैं. 

यह भी पढ़े: जिस जानवर पर कोरोना वायरस फैलाने का शक, उसी की सुरक्षा बढ़ाने में लगा चीन

इस नेता ने पत्रकारों से कहा, “मैं आपको अभी बता रहा हूं कि संयुक्त राज्य अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ छोड़ दिया है और हम इसे लेकर भविष्य के लिए अध्ययन कर रहे हैं. या तो डब्ल्यूएचओ वैचारिक पक्षपात के बिना काम करे नहीं तो हम भी उसे छोड़ देंगे.”

बोल्‍सोनारो ने महामारी से निपटने को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति का अनुसरण किया था. जैसे इस महामारी की गंभीरता को कम आंकना, घर पर रहने के उपायों को तवज्‍जो न देना और COVID-19 के खिलाफ हाइड्रोक्सीक्लोरक्वाइन के कथित प्रभाव की बात कहना.  

बता दें कि डब्लूएचओ ने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के परीक्षणों को निलंबित कर दिया था क्योंकि प्रमुख अध्ययनों ने इसकी सुरक्षा और प्रभावशीलता के बारे में चिंता जताई थी. जबकि ट्रम्प ने खुद एक निवारक उपाय के रूप में यह दवा ली थी.

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *