अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
Updated Sun, 07 Jun 2020 01:55 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

बाहरी राज्यों से हिमाचल के लिए बसें नहीं आएंगी। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान रोडवेज व निगम ने हिमाचल को बसें भेजने की हामी भरी है लेकिन सरकार ने बसें भेजने को मना कर दिया है। बाहरी राज्यों की अपेक्षा हिमाचल में कोरोना की स्थिति बहुत बेहतर है।

ऐसे में सरकार किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती है। प्रदेश सरकार अभी हिमाचल में ही बसें चला रही है। बाहरी राज्यों के लिए बसें भेजने पर प्रतिबंध लगाया है। बाहरी राज्यों में कोरोना के ज्यादा मामले हैं। हिमाचल की स्थिति ठीक है। प्रतिदिन कोरोना के मरीज भले ही आ रहे हैं लेकिन उससे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव ठीक भी हो रहे हैं। 

बसें चलाने से डीजल का खर्चा नहीं निकल रहा 
वहीं, परिवहन निगम बीते सप्ताह से बसें चला रहा है। हालात यह है कि इन बसों से डीजल का खर्चा भी नहीं निकल रहा है। बसें खाली दौड़ रही हैं। सरकार को मिली रिपोर्ट के मुताबिक बसों में अभी पांच तो कभी सात सवारियां बैठ रही हैं।

बाहरी राज्यों से हिमाचल के लिए बसें नहीं आएंगी। पंजाब, हरियाणा, राजस्थान रोडवेज व निगम ने हिमाचल को बसें भेजने की हामी भरी है लेकिन सरकार ने बसें भेजने को मना कर दिया है। बाहरी राज्यों की अपेक्षा हिमाचल में कोरोना की स्थिति बहुत बेहतर है।

ऐसे में सरकार किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती है। प्रदेश सरकार अभी हिमाचल में ही बसें चला रही है। बाहरी राज्यों के लिए बसें भेजने पर प्रतिबंध लगाया है। बाहरी राज्यों में कोरोना के ज्यादा मामले हैं। हिमाचल की स्थिति ठीक है। प्रतिदिन कोरोना के मरीज भले ही आ रहे हैं लेकिन उससे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव ठीक भी हो रहे हैं। 

बसें चलाने से डीजल का खर्चा नहीं निकल रहा 

वहीं, परिवहन निगम बीते सप्ताह से बसें चला रहा है। हालात यह है कि इन बसों से डीजल का खर्चा भी नहीं निकल रहा है। बसें खाली दौड़ रही हैं। सरकार को मिली रिपोर्ट के मुताबिक बसों में अभी पांच तो कभी सात सवारियां बैठ रही हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *