न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sat, 23 May 2020 12:06 AM IST

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (फाइल फोटो)
– फोटो : पीटीआई

ख़बर सुनें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के 34 सदस्यीय कार्यकारी बोर्ड के चेयरमैन का पद संभाल लिया। जापान के डॉ. हिरोकी नाकातानी की जगह लेने वाले हर्षवर्धन ने कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

हर्षवर्धन ने कहा, मौजूदा संकट से उबरने के लिए वैश्विक भागीदारी को मजबूत करने और एक दूसरे की भावनाओं को समझने की जरूरत है। गौरतलब है कि बोर्ड में भारत के प्रतिनिधि को नियुक्त करने के प्रस्ताव पर मंगलवार को डब्लूएचओ की बैठक में 194 सदस्य देशों ने हस्ताक्षर किए थे।

पिछले साल डब्ल्यूएचओ के दक्षिण पूर्व एशिया समूह ने सर्वसम्मति से बोर्ड में भारतीय प्रतिनिधि को तीन साल के लिए चुनने का फैसला किया था। इस पद पर हर्षवर्धन का कार्यकाल तीन साल का होगा। चेयरमैन पद क्षेत्रीय समूहों के लिए बारी-बारी से एक-एक साल का होता है और इसका फैसला पिछले साल ही हो गया था कि पहले साल भारत का प्रतिनिधि इसका चेयरमैन होगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के 34 सदस्यीय कार्यकारी बोर्ड के चेयरमैन का पद संभाल लिया। जापान के डॉ. हिरोकी नाकातानी की जगह लेने वाले हर्षवर्धन ने कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

हर्षवर्धन ने कहा, मौजूदा संकट से उबरने के लिए वैश्विक भागीदारी को मजबूत करने और एक दूसरे की भावनाओं को समझने की जरूरत है। गौरतलब है कि बोर्ड में भारत के प्रतिनिधि को नियुक्त करने के प्रस्ताव पर मंगलवार को डब्लूएचओ की बैठक में 194 सदस्य देशों ने हस्ताक्षर किए थे।

पिछले साल डब्ल्यूएचओ के दक्षिण पूर्व एशिया समूह ने सर्वसम्मति से बोर्ड में भारतीय प्रतिनिधि को तीन साल के लिए चुनने का फैसला किया था। इस पद पर हर्षवर्धन का कार्यकाल तीन साल का होगा। चेयरमैन पद क्षेत्रीय समूहों के लिए बारी-बारी से एक-एक साल का होता है और इसका फैसला पिछले साल ही हो गया था कि पहले साल भारत का प्रतिनिधि इसका चेयरमैन होगा।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *