न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Tue, 26 May 2020 03:18 PM IST

ख़बर सुनें

देश में महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है। यहां संक्रमितों की संख्या 50 हजार को पार कर गई है। बढ़ते मामलों के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसे लेकर बयान दिया। मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल ने कहा कि हम महाराष्ट्र में सरकार को समर्थन दे रहे हैं, लेकिन हमारे पास फैसला लेने की पूरी ताकत नहीं है।  

साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि जितनी ज्यादा कनेक्टेड (जुड़ी हुईं) जगहें हैं, वहां कोरोना संक्रमण ज्यादा है। इसी वजह से मुंबई-दिल्ली में अधिक मामले सामने आए हैं। हम महाराष्ट्र में सरकार को समर्थन दे रहे हैं, लेकिन हमारे पास फैसला लेने की क्षमता नहीं है। हम पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और पुडुचेरी में फैसला लेने की स्थिति में हैं।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से महाराष्ट्र को मदद मिलनी चाहिए। हम केंद्र सरकार को केवल सुझाव दे सकते हैं लेकिन सरकार को क्या मानना है, वो उनके ऊपर निर्भर करता है।

लॉकडाउन को बताया विफल
बता दें कि आज राहुल गांधी ने सरकार को घेरते हुए कहा कि देश में चार चरणों में लगाया गया लॉकडाउन विफल रहा है। राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि आगे कोरोना संकट से निपटने और जरूरतमंदों को मदद देने की उनकी रणनीति क्या है?  

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि लॉकडाउन पूरी तरह से फेल हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उम्मीद थी कि कोरोना 21 दिन में नियंत्रित हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने अपनी पुरानी मांग दोहराते हुए यह भी कहा कि गरीबों और मजदूरों को 7500 रुपये की मदद दी जाए और राज्य सरकारों को केंद्र की तरफ से पूरी मदद मिले।

देश में महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है। यहां संक्रमितों की संख्या 50 हजार को पार कर गई है। बढ़ते मामलों के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसे लेकर बयान दिया। मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल ने कहा कि हम महाराष्ट्र में सरकार को समर्थन दे रहे हैं, लेकिन हमारे पास फैसला लेने की पूरी ताकत नहीं है।  

साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि जितनी ज्यादा कनेक्टेड (जुड़ी हुईं) जगहें हैं, वहां कोरोना संक्रमण ज्यादा है। इसी वजह से मुंबई-दिल्ली में अधिक मामले सामने आए हैं। हम महाराष्ट्र में सरकार को समर्थन दे रहे हैं, लेकिन हमारे पास फैसला लेने की क्षमता नहीं है। हम पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और पुडुचेरी में फैसला लेने की स्थिति में हैं।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से महाराष्ट्र को मदद मिलनी चाहिए। हम केंद्र सरकार को केवल सुझाव दे सकते हैं लेकिन सरकार को क्या मानना है, वो उनके ऊपर निर्भर करता है।

लॉकडाउन को बताया विफल
बता दें कि आज राहुल गांधी ने सरकार को घेरते हुए कहा कि देश में चार चरणों में लगाया गया लॉकडाउन विफल रहा है। राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि आगे कोरोना संकट से निपटने और जरूरतमंदों को मदद देने की उनकी रणनीति क्या है?  

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि लॉकडाउन पूरी तरह से फेल हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उम्मीद थी कि कोरोना 21 दिन में नियंत्रित हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने अपनी पुरानी मांग दोहराते हुए यह भी कहा कि गरीबों और मजदूरों को 7500 रुपये की मदद दी जाए और राज्य सरकारों को केंद्र की तरफ से पूरी मदद मिले।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *