न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Updated Sun, 07 Jun 2020 09:30 AM IST

बिहार में पोस्टर वार शुरू
– फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

विधानसभा चुनाव की आहट के साथ ही बिहार में एक बार फिर पोस्टर वार शुरू हो गया है। राजधानी पटना में नेताओं के पोस्टर लगाए जा रहे हैं। पटना के डाक बंगला चौराहे और आयकर विभाग रोड पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को निशाने पर लेते हुए होर्डिंग लगाए गए हैंं। 
 

यहां राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के फोटो वाले पोस्टर लगाए गए हैं। एक पोस्टर डाक बंगला चौराहे पर लगाया गया है, तो वहीं दूसरे पोस्टर को आयकर विभाग रोड पर लगाया गया है। पोस्टर पर लिखा गया है, ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली।’

बता दें कि लालू के मुख्यमंत्री रहने के दौरान पशुपालन विभाग में 900 करोड़ रुपये से ज्यादा का चारा घोटाला किया गया था। अभी तक इस घोटाले से जुड़े चार मामलों में कोषागार से फर्जी धन निकासी के आरोप में लालू को सजा हो चुकी है। इनमें दो मामले चाईबासा कोषागार के हैं, जबकि एक-एक मामला दुमका व देवघर कोषागार का है।

हालांकि चाईबासा और देवघर के एक-एक मामले में लालू को जमानत मिल चुकी है। उन पर दोरांदा कोषागार से जुड़े पांचवें मामले में रांची की विशेष सीबीआई अदालत में सुनवाई जारी है। दिसंबर, 2017 से जेल में बंद लालू फिलहाल रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। 

विधानसभा चुनाव की आहट के साथ ही बिहार में एक बार फिर पोस्टर वार शुरू हो गया है। राजधानी पटना में नेताओं के पोस्टर लगाए जा रहे हैं। पटना के डाक बंगला चौराहे और आयकर विभाग रोड पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को निशाने पर लेते हुए होर्डिंग लगाए गए हैंं। 

 

यहां राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के फोटो वाले पोस्टर लगाए गए हैं। एक पोस्टर डाक बंगला चौराहे पर लगाया गया है, तो वहीं दूसरे पोस्टर को आयकर विभाग रोड पर लगाया गया है। पोस्टर पर लिखा गया है, ‘कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली।’

बता दें कि लालू के मुख्यमंत्री रहने के दौरान पशुपालन विभाग में 900 करोड़ रुपये से ज्यादा का चारा घोटाला किया गया था। अभी तक इस घोटाले से जुड़े चार मामलों में कोषागार से फर्जी धन निकासी के आरोप में लालू को सजा हो चुकी है। इनमें दो मामले चाईबासा कोषागार के हैं, जबकि एक-एक मामला दुमका व देवघर कोषागार का है।

हालांकि चाईबासा और देवघर के एक-एक मामले में लालू को जमानत मिल चुकी है। उन पर दोरांदा कोषागार से जुड़े पांचवें मामले में रांची की विशेष सीबीआई अदालत में सुनवाई जारी है। दिसंबर, 2017 से जेल में बंद लालू फिलहाल रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *