स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला
Updated Fri, 22 May 2020 10:09 PM IST

ख़बर सुनें

कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने के लिए पूरी दुनिया के वैज्ञानिक दिनरात जुटे हुए हैं। इसी प्रक्रिया में ब्रिटेन से कुछ उम्मीदें जगी हैं। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने शुक्रवार को इस बात की पुष्टि की है कि वो वैक्सीन के परीक्षण को लेकर अगले चरण पर पहुंच गए हैं।

इसके तहत इंसानी परीक्षण के दूसरे चरण के लिए वैज्ञानिकों ने 10 हजार से ज्यादा लोगों को तैयार किया है। इंसानी परीक्षण के पहले चरण के तहत 55 साल और उससे कम उम्र वाले स्वस्थ लोगों पर इस वैक्सीन का ट्रायल किया गया था। 

अब दूसरे चरण में 10,200 लोगों पर परीक्षण किया जाएगा। इसमें 70 साल के बुजुर्ग से लेकर 12 साल के बच्चे भी शामिल हैं। इस परीक्षण में यह देखा जाएगा कि वैक्सीन से इनके इम्यून सिस्टम पर क्या प्रभाव पड़ता है।

कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने के लिए पूरी दुनिया के वैज्ञानिक दिनरात जुटे हुए हैं। इसी प्रक्रिया में ब्रिटेन से कुछ उम्मीदें जगी हैं। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने शुक्रवार को इस बात की पुष्टि की है कि वो वैक्सीन के परीक्षण को लेकर अगले चरण पर पहुंच गए हैं।

इसके तहत इंसानी परीक्षण के दूसरे चरण के लिए वैज्ञानिकों ने 10 हजार से ज्यादा लोगों को तैयार किया है। इंसानी परीक्षण के पहले चरण के तहत 55 साल और उससे कम उम्र वाले स्वस्थ लोगों पर इस वैक्सीन का ट्रायल किया गया था। 

अब दूसरे चरण में 10,200 लोगों पर परीक्षण किया जाएगा। इसमें 70 साल के बुजुर्ग से लेकर 12 साल के बच्चे भी शामिल हैं। इस परीक्षण में यह देखा जाएगा कि वैक्सीन से इनके इम्यून सिस्टम पर क्या प्रभाव पड़ता है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *