न्यूज डेस्क, अमर उजाला, तिनसुकिया
Updated Tue, 09 Jun 2020 04:55 PM IST

ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस कुएं में भीषण आग लगी
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

असम के तिनसुकिया जिले के बागजान में ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस कुएं में भीषण आग लग गई है। आग की वजह से कुएं से लगातार काला धुंआ उठ रहा है। आग पर काबू पाने और किसी भी तरह के नुकसान को रोकने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की एक टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है।

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार, ‘ऑइल इंडिया लिमिटेड के तेल कुएं में विस्फोट इतना भारी है कि इसे दो किलोमीटर से अधिक की दूरी से देखा जा सकता है।

 

 

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि अब तक किसी के हताहत या घायल होने की सूचना नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि अग्निशमन दल घटनास्थल पर पहुंच गया है और आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।

वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्होंने पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से घटना को लेकर बात की है। उन्होंने कहा, ‘हमने  स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पहले ही आग और आपातकालीन सेवाओं, सेना और पुलिस अधिकारियों को तैनात करने का निर्देश दिया है। साथ ही जिला प्रशासन को भी लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है और स्थानीय लोगों से नहीं घबराने की अपील की गई है।’

जिला प्रशासन की टीम ने भी पास के ग्रामीण और स्थानीय लोगों को घटनास्थल से दूर पहुंचा दिया है।

 

असम के तिनसुकिया जिले के बागजान में ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस कुएं में भीषण आग लग गई है। आग की वजह से कुएं से लगातार काला धुंआ उठ रहा है। आग पर काबू पाने और किसी भी तरह के नुकसान को रोकने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की एक टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है।

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार, ‘ऑइल इंडिया लिमिटेड के तेल कुएं में विस्फोट इतना भारी है कि इसे दो किलोमीटर से अधिक की दूरी से देखा जा सकता है।

 

 

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि अब तक किसी के हताहत या घायल होने की सूचना नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि अग्निशमन दल घटनास्थल पर पहुंच गया है और आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।

वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्होंने पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से घटना को लेकर बात की है। उन्होंने कहा, ‘हमने  स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पहले ही आग और आपातकालीन सेवाओं, सेना और पुलिस अधिकारियों को तैनात करने का निर्देश दिया है। साथ ही जिला प्रशासन को भी लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है और स्थानीय लोगों से नहीं घबराने की अपील की गई है।’

जिला प्रशासन की टीम ने भी पास के ग्रामीण और स्थानीय लोगों को घटनास्थल से दूर पहुंचा दिया है।

 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *