न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Updated Tue, 26 May 2020 12:48 PM IST

विधायक अमरेंद्र पांडे (सबसे दाएं)
– फोटो : Facebook

ख़बर सुनें

बिहार के गोपलागंज जिले में हुए ट्रिपल मर्डर केस में जनता जल यूनाइटेड (जेडीयू) के विधायक अमरेंद्र पांडे उर्फ पप्पू पांडे समेत परिवार पर पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है। इस हत्याकांड को लेकर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए विधायक के भाई सतीश पांडे और भतीजे मुकेश पांडे को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुकेश गोपालगंज जिला परिषद का अध्यक्ष भी है। 

दरअसल, जिले के हथुआ थाना क्षेत्र के रूपनचक गांव में दो बाइक सवार अपराधियों ने रविवार की शाम घर के बाहर बैठे जेपी चौधरी और उनके परिजनों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से उनके माता-पिता ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। जबकि, एक भाई की सोमवार की सुबह पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (पीएमसीएच) में मौत हो गई।

वहीं, घायल आरजेडी नेता का इलाज पीएमसीएच में चल रहा है। उनके बयान पर जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडे, विधायक के बड़े भाई सतीश पांडे और भतीजे मुकेश पांडे के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की गई है। 

पुलिस ने सतीश पांडे और मुकेश पांडे को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल में भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि इस हत्याकांड को राजनीतिक साजिश के तहत अंजाम दिया गया है। 

इस हत्याकांड के बाद से ही सरकार पर सवाल उठने शुरू हो गए थे। इसका परिणाम यह हुआ कि पुलिस ने जेडीयू विधायक के घर पर दबिश दी। पुलिस ने विधायक के कमरे में छुपे उनके भाई सतीश पांडे को गिरफ्तार किया, जबकि जिला परिषद अध्यक्ष मुकेश पांडे को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस नामजद आरोपी जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडे की भूमिका को लेकर भी जांच में जुटी हुई है। पुलिस ने कई संदिग्धों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 
 

बिहार के गोपलागंज जिले में हुए ट्रिपल मर्डर केस में जनता जल यूनाइटेड (जेडीयू) के विधायक अमरेंद्र पांडे उर्फ पप्पू पांडे समेत परिवार पर पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है। इस हत्याकांड को लेकर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए विधायक के भाई सतीश पांडे और भतीजे मुकेश पांडे को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुकेश गोपालगंज जिला परिषद का अध्यक्ष भी है। 

दरअसल, जिले के हथुआ थाना क्षेत्र के रूपनचक गांव में दो बाइक सवार अपराधियों ने रविवार की शाम घर के बाहर बैठे जेपी चौधरी और उनके परिजनों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगने से उनके माता-पिता ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। जबकि, एक भाई की सोमवार की सुबह पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (पीएमसीएच) में मौत हो गई।

वहीं, घायल आरजेडी नेता का इलाज पीएमसीएच में चल रहा है। उनके बयान पर जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडे, विधायक के बड़े भाई सतीश पांडे और भतीजे मुकेश पांडे के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की गई है। 

पुलिस ने सतीश पांडे और मुकेश पांडे को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल में भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि इस हत्याकांड को राजनीतिक साजिश के तहत अंजाम दिया गया है। 

इस हत्याकांड के बाद से ही सरकार पर सवाल उठने शुरू हो गए थे। इसका परिणाम यह हुआ कि पुलिस ने जेडीयू विधायक के घर पर दबिश दी। पुलिस ने विधायक के कमरे में छुपे उनके भाई सतीश पांडे को गिरफ्तार किया, जबकि जिला परिषद अध्यक्ष मुकेश पांडे को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस नामजद आरोपी जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडे की भूमिका को लेकर भी जांच में जुटी हुई है। पुलिस ने कई संदिग्धों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 
 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *