स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Tue, 09 Jun 2020 06:45 PM IST

ब्रेकिंग न्यूज
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

कोविड-19 ने न सिर्फ दुनिया को नए सिरे से सोचने पर मजबूर कर दिया बल्कि खेल के नियमों में भी परिवर्तन ला दिया। क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था यानी इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने टेस्ट क्रिकेट में कोरोना सब्स्टीट्यूट के नियम की मंजूरी दे दी। यानी अब कन्कशन की तरह ही टेस्ट मैच में खिलाड़ियों की अदला-बदली संभव है। इस ऩियम के मुताबिक, अगर मैच के दौरान खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो उसकी जगह सब्स्टीट्यूट को मैदान पर उतारा जा सकेगा। खिलाड़ी के कोरोना संक्रमित होने के बाद सर्वप्रथम स्टेडियम में मौजूद डॉक्टर्स और इंग्लैंड के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट को इसकी जानकारी दी जाएगी और फिर संबंधित खिलाड़ी को एकांतवास (Isolation) में भेज दिया जाएगा। कन्कशन की तरह ही यहां भी वही नियम लागू होंगे। मसलन गेंदबाज के पॉजिटिव पाए जाने पर गेंदबाज, बल्लेबाज के बदले बल्लेबाज और विकेटकीपर के बदले विकेटकीपर को ही मैदान पर खेलने का मौका मिलेगा। हालांकि, यह सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में ही अमल में लाया जाएगा। फिलहाल, वन-डे और टी-20 में इसे लागू नहीं किया जाएगा।

अनिल कुंबले की अगुवाई वाली क्रिकेट समिति की सिफारिशों को भी मान लिया गया है। यानी अब क्रिकेट में खिलाड़ी बार-बार गेंद पर थूक या लार का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। एक टीम को प्रति पारी दो बार तक चेतावनी जारी की जा सकती है, लेकिन लार के बार-बार उपयोग पर गेंदबाजी पक्ष को पांच रन की पेनल्टी लगेगी। अर्थात विरोधी टीम के खाते में पांच रन जोड़ दिए जाएंगे। इसके अलावा नए नियमों के मुताबकि गेंद को लार से चमकाने के तुरंत बाद अंपायर्स को उसे साफ करने के निर्दश दिए गए हैं।

कोविड-19 ने न सिर्फ दुनिया को नए सिरे से सोचने पर मजबूर कर दिया बल्कि खेल के नियमों में भी परिवर्तन ला दिया। क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था यानी इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने टेस्ट क्रिकेट में कोरोना सब्स्टीट्यूट के नियम की मंजूरी दे दी। यानी अब कन्कशन की तरह ही टेस्ट मैच में खिलाड़ियों की अदला-बदली संभव है। इस ऩियम के मुताबिक, अगर मैच के दौरान खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो उसकी जगह सब्स्टीट्यूट को मैदान पर उतारा जा सकेगा। खिलाड़ी के कोरोना संक्रमित होने के बाद सर्वप्रथम स्टेडियम में मौजूद डॉक्टर्स और इंग्लैंड के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट को इसकी जानकारी दी जाएगी और फिर संबंधित खिलाड़ी को एकांतवास (Isolation) में भेज दिया जाएगा। कन्कशन की तरह ही यहां भी वही नियम लागू होंगे। मसलन गेंदबाज के पॉजिटिव पाए जाने पर गेंदबाज, बल्लेबाज के बदले बल्लेबाज और विकेटकीपर के बदले विकेटकीपर को ही मैदान पर खेलने का मौका मिलेगा। हालांकि, यह सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में ही अमल में लाया जाएगा। फिलहाल, वन-डे और टी-20 में इसे लागू नहीं किया जाएगा।


आगे पढ़ें

गेंद पर लार लगाने पर प्रतिबंध

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *