न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 27 May 2020 01:02 AM IST

दिल्ली-एनसीआर में गर्मी और लू कहर ढा रही है
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में गर्मी और लू कहर ढा रही है। दिल्ली की तपिश ने मंगलवार को 18 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। वहीं, 22 साल में दूसरी बार दिल्ली का पारा 46 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो कि सामान्य से 6 डिग्री ज्यादा था। इससे पहले 19 मई 2002 में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस और 29 मई 1998 को 46.5 दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो कि सामान्य से एक डिग्री ज्यादा रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार को पूरी दिल्ली लू की चपेट में रही। पालम 47.6 डिग्री सेल्सियस के साथ लगातार दूसरे दिन सबसे गर्म रहा। दिल्ली में मंगलवार न केवल इस सीजन में अब तक का सबसे गरम दिन रहा, बल्कि वर्ष 2002 के बाद पहली बार तापमान 46.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

28 मई के बाद आएगी पारे में गिरावट
दिल्ली-एनसीआर में अभी उत्तर पश्चिमी हवाएं चल रही हैं। मंगलवार को हवा की चाल धीमी रही। इससे पूरी दिल्ली के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 28 मई से तापमान में गिरावट आएगी क्यों कि हवा की दिशा उत्तर-पश्चिम से बदलकर पुरवा हो जाएगी। वहीं, पश्चिमी विक्षोभ का भी असर दिल्ली में रहेगा।

पालम में गर्मी ने नौ साल का रिकॉर्ड तोड़
दिल्ली में मंगलवार को पालम सबसे गरम रहा। यहां अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मई 2010 के बाद यह दूसरी बार है, जब तापमान 47 से ऊपर दर्ज किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि पालम में अब तक का सर्वाधिक तापमान मई 1998 में 48.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

कहां कितना तापमान
स्टेशन  अधिकतम तापमान(डिसे.)
सफरदजंग  46.0
पालम 47.6
लोदी रोड 45.4
आया नगर 46.8

दिल्ली में पिछले 22 साल में सर्वाधिक तापमान (डिसे.)
 29 मई 1998   46.5
19 मई 2002    46.0
26 मई 2020  46.0
अब तक सबसे ज्यादा तापमान
29 मई 1944 47.2 डिग्री सेल्सियस

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में गर्मी और लू कहर ढा रही है। दिल्ली की तपिश ने मंगलवार को 18 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। वहीं, 22 साल में दूसरी बार दिल्ली का पारा 46 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, जो कि सामान्य से 6 डिग्री ज्यादा था। इससे पहले 19 मई 2002 में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस और 29 मई 1998 को 46.5 दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो कि सामान्य से एक डिग्री ज्यादा रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार को पूरी दिल्ली लू की चपेट में रही। पालम 47.6 डिग्री सेल्सियस के साथ लगातार दूसरे दिन सबसे गर्म रहा। दिल्ली में मंगलवार न केवल इस सीजन में अब तक का सबसे गरम दिन रहा, बल्कि वर्ष 2002 के बाद पहली बार तापमान 46.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

28 मई के बाद आएगी पारे में गिरावट

दिल्ली-एनसीआर में अभी उत्तर पश्चिमी हवाएं चल रही हैं। मंगलवार को हवा की चाल धीमी रही। इससे पूरी दिल्ली के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 28 मई से तापमान में गिरावट आएगी क्यों कि हवा की दिशा उत्तर-पश्चिम से बदलकर पुरवा हो जाएगी। वहीं, पश्चिमी विक्षोभ का भी असर दिल्ली में रहेगा।

पालम में गर्मी ने नौ साल का रिकॉर्ड तोड़
दिल्ली में मंगलवार को पालम सबसे गरम रहा। यहां अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मई 2010 के बाद यह दूसरी बार है, जब तापमान 47 से ऊपर दर्ज किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि पालम में अब तक का सर्वाधिक तापमान मई 1998 में 48.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

कहां कितना तापमान
स्टेशन  अधिकतम तापमान(डिसे.)
सफरदजंग  46.0
पालम 47.6
लोदी रोड 45.4
आया नगर 46.8

दिल्ली में पिछले 22 साल में सर्वाधिक तापमान (डिसे.)
 29 मई 1998   46.5
19 मई 2002    46.0
26 मई 2020  46.0
अब तक सबसे ज्यादा तापमान
29 मई 1944 47.2 डिग्री सेल्सियस

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *