पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

अमेरिका के बाद नस्लवाद की आग अब ब्राजील में भी सुलग गई है। ब्राजील में पिछले मंगलवार को एक पांच साल के अश्वेत बच्चे की छत से गिरने की वजह से मौत हो गई। बच्चे की मौत के विरोध में शुक्रवार को सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आए। सुरक्षा वीडियो के अनुसार अश्वेत महिला जहां काम करती है, उसी अपार्टमेंट के टॉप फ्लोर से गिरकर उसके बच्चे की मौत हुई।

खबरों के अनुसार अश्वेत महिला एक श्वेत महिला की देखरेख में अपने बच्चे को छोड़कर काम कर रही थी। इस दौरान श्वेत महिला बच्चे को छोड़ अपने कुत्ते को घूमाने के लिए बाहर चली गई। सिक्युरिटी कैमरा फुटेज में श्वेत महिला को बिल्डिंग के सर्विस एलिवेटर में बटन दबाकर बच्चे को ऊपरी मंजिल पर भेजते हुए दिखाया गया है।

डीब्ल्यू की रिपोर्ट के अनुसार लिफ्ट से बाहर निकलने के बाद लड़का एक बालकनी की रेलिंग पर चढ़ गया। इसके बाद उसने अपना संतुलन खो दिया और वह नीचे गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई। कोरोना वायरस के चलते स्कूल बंद होने के कारण पांच वर्षीय मिग्युल डा सिल्वा अपनी मां के साथ काम पर गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बच्चे की मौत के तुरंत बाद ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ नारे लगाते हुए सैकड़ों प्रदर्शनकारी रेसिफ शहर की सड़कों पर उतर आए। लोगों ने सिटी कोर्ट से लेकर जिस इमारत से गिरने से डिसिल्वा की मौत हुई, वहां तक प्रदर्शन किया।

अमेरिका में 25 मई को मिनेसोटा में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। इसके बाद वहां देशभर में प्रदर्शन चल रहा है। कई शहरों में कर्फ्यू लगा है।

अमेरिका के बाद नस्लवाद की आग अब ब्राजील में भी सुलग गई है। ब्राजील में पिछले मंगलवार को एक पांच साल के अश्वेत बच्चे की छत से गिरने की वजह से मौत हो गई। बच्चे की मौत के विरोध में शुक्रवार को सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आए। सुरक्षा वीडियो के अनुसार अश्वेत महिला जहां काम करती है, उसी अपार्टमेंट के टॉप फ्लोर से गिरकर उसके बच्चे की मौत हुई।

खबरों के अनुसार अश्वेत महिला एक श्वेत महिला की देखरेख में अपने बच्चे को छोड़कर काम कर रही थी। इस दौरान श्वेत महिला बच्चे को छोड़ अपने कुत्ते को घूमाने के लिए बाहर चली गई। सिक्युरिटी कैमरा फुटेज में श्वेत महिला को बिल्डिंग के सर्विस एलिवेटर में बटन दबाकर बच्चे को ऊपरी मंजिल पर भेजते हुए दिखाया गया है।

डीब्ल्यू की रिपोर्ट के अनुसार लिफ्ट से बाहर निकलने के बाद लड़का एक बालकनी की रेलिंग पर चढ़ गया। इसके बाद उसने अपना संतुलन खो दिया और वह नीचे गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई। कोरोना वायरस के चलते स्कूल बंद होने के कारण पांच वर्षीय मिग्युल डा सिल्वा अपनी मां के साथ काम पर गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बच्चे की मौत के तुरंत बाद ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ नारे लगाते हुए सैकड़ों प्रदर्शनकारी रेसिफ शहर की सड़कों पर उतर आए। लोगों ने सिटी कोर्ट से लेकर जिस इमारत से गिरने से डिसिल्वा की मौत हुई, वहां तक प्रदर्शन किया।

अमेरिका में 25 मई को मिनेसोटा में अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। इसके बाद वहां देशभर में प्रदर्शन चल रहा है। कई शहरों में कर्फ्यू लगा है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *