• रिटेल बिक्री में अभी नहीं दिख रही है गति
  • मार्च के ऑर्डर की भी डिलिवरी अभी पेंडिंग है

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 04:20 PM IST

मुंबई. अप्रैल महीने में अब तक का सबसे खराब अनुभव करनेवाले ऑटो सेक्टर के लिए मई महीना भी निराश कर सकता है। मारुति सुजुकी, हीरो मोटो कॉर्प, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा मोटर्स जैसी कंपनियों को उम्मीद है कि मई महीने में बिक्री की मामूली शुरुआत दिख सकती है। इन कंपनियों को उम्मीद है कि औसतन होलसेल मासिक बिक्री का दसवां हिस्सा मई में बिक सकता है।

प्रोडक्शन इकोसिस्टम अभी भी ठप पड़ा है

आर्थिक मंदी और ग्राहकों के निगेटिव सेंटीमेंट के कारण ऑटो कंपनियों पर लंबे समय तक असर दिखेगा। मई महीने में हालांकि शुरुआत के लिए कुछ उम्मीद दिख सकती है। हाल में कंपनियों ने एक के बाद एक प्लांट शुरू कर दिया है। परंतु पूरा प्रोडक्शन इकोसिस्टम अभी भी ठप सा पड़ा है। इसका कारण यह है कि सप्लायर्स, वेंडर्स, डीलर्स और फाइनेंसर्स की ओर से अभी बहुत ज्यादा डिमांड नहीं आ रही है।

जीरो बिक्री से बच गया है मई महीना

ऑटो उद्योग में अनुमानित रूप से 4 करोड़ से ज्यादा लोगों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलता है। यह देश की जीडीपी में 7 प्रतिशत है। ऑटो उद्योग से सरकार को कुल टैक्स में 15 प्रतिशत मिलता है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ऑटोमोटिव डिवीजन के सीईओ विजय नाक्रा ने कहा कि अप्रैल के जैसे मई महीने में जीरो बिक्री तो नहीं होगी, पर यह महीना भी खराब ही रहेगा। मई महीने में शोरूम तो धीरे-धीरे खुल रहे हैं लेकिन बिक्री की गति बहुत ही धीमी है।

छोटे कमर्शियल व्हीकल की ग्रामीण इलाकों से आ रही है मांग

छोटे कमर्शियल व्हीकल और बोलेरो जैसे व्हीकल के लिए शहरों के सिवाय अन्य इलाकों में मांग देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि उत्तर, पूर्व और मध्य भारत में इस तरह का रुझान दिख रहा है। मारुति और ह्युंडई जैसी टॉप की दो कंपनियों में एक महीने की इनवेंटरी पड़ी है। मारुति के कार्यकारी निदेशक शशांक श्रीवास्तव कहते हैं कि इस महीने होलसेल बिक्री धीमी रहेगी। इसका कारण यह है कि डीलर्स अभी अपना स्टॉक खाली करने के प्रयास में हैं।

डीलर्स का इनवेंटरी खाली करने पर फोकस

विश्लेषकों के मुताबिक मई महीने में होलसेल की तुलना में रिटेल बिक्री का आंकडा थोड़ा बढ़ सकता है। डीलर्स अपनी इनवेंटरी खाली करने पर फोकस करेंगे। ऑटो उद्योग के तीन महीने के अंदर स्थिर होने की उम्मीद जताई जा रही है। ह्युडई मोटर इंडिया के मार्केटिंग डायरेक्टर तरुण गर्ग कहते हैं कि अभी तक इस महीने में 5,600 कार की बिक्री हुई है। पॉजिटिव संकेत मिल रहा है लेकिन स्थिति सामान्य होने में अभी समय लगेगा।

आरटीओ में व्हीकल रजिस्ट्रेशन बंद है

उन्होंने कहा कि कोरोना के पहले हर रोज 1,500 की बुकिंग आती थी। अब यह घटकर 850 के करीब आ गई है। हालांकि यह स्थिति अभी शुरू हुई है। टाटा मोटर्स के एक डीलर के मुताबिक आरटीओ में व्हीकल रजिस्ट्रेशन बंद है और फाइनेंस कंपनियां लोन देने में अभी जल्दी नहीं कर रही हैं। इसलिए रिटेल की बिक्री अभी शुरू नहीं हो पा रही है। मार्च में जो ऑर्डर दिए गए थे अभी तक उसकी डिलीवरी नहीं हो पाई है। 

हीरो मोटोकॉर्प के प्रवक्ता के मुताबिक कंपनी की जितनी डीलरशिप अभी तक खुली है, वह रिटेल बिक्री के वोल्युम में 70 प्रतिशत का योगदान कर रहे हैं। हर महीने 5.5 लाख वाहन बेचनेवाले हीरो मोटो कॉर्प को उम्मीद है कि  मई महीने में एक लाख से भी कम दोपहिया वाहन बिकेंगे। 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *