अमेरिका कोरोनावायरस में
– फोटो: सोशल मीडिया

ख़बर सुनता है

ट्रंप प्रशासन की आंतरिक रिपोर्ट कहती है कि जून तक अमेरिका में संक्रमण के दो लाख मामले हो जाएंगे और रोज औसतन 3 हजार लोगों की मौतें होंगी। लेकिन देश की अर्थव्यवस्था इस कदर तबाह हो रही है कि राष्ट्रपति ट्रम्प लगातार अमेरिकी राज्यों पर आर्थिक हालात फिर से खोलने का दबाव बना रहे हैं। इस बीच देश के 6 से ज्यादा राज्य सेवाओं को फिर से खोलने की मंजूरी भी दे चुके हैं।

‘यॉर्क टाइम्स के हाथ लगे हुए आंतरिक दस्तावेज़ के मुताबिक, 1 जून को अमेरिका में दैनिक मौत का आंकड़ा लगभग 3,000 पहुंच जाएगा, जो अभी भी औसतन लगभग 1,750 के आंकड़ों के 70% की वृद्धि कर देगा। कागज प्रबंधन प्रबंधन एजेंसी ने सरकारी प्रशिक्षण के आधार पर महीने के अंत तक रोज 2 लाख नए मामलों के सामने आने का अनुमान भी जताया है, जो मौजूदा 25,000 दैनिक मामलों से काफी अधिक होंगे। ऐसे में निश्चित ही अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने की कोशिशें पूरे महाद्वीप को तबाह कर सकती है।

वाशिंगटन विश्वविद्यालय में इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स और इवलुशन अब यह अनुमान लगाया जा रहा है कि अग की शुरुआत तक अमेरिका लगभग 1,35,000 मौतें होगी जो मौजूदा मौतों से करीब-करीब दुगना है। व्हाइट हाउस ने न्यूयॉर्क टाइम्स की इस रिपोर्ट को विवादास्पद बताया है।

यूरोप: ब्रिटेन में इटली से ज्यादा मौतें

ब्रिटेन मंगलवार को यूरोप में को विभाजित -19 से सबसे ज्यादा मौतों वाला देश बन गया। ब्रिटेन (29,427) में मौत का आंकड़ा इटली (29,315) से बहुत ज्यादा हो गया है। इसके साथ पीएम बोरिस जॉनसन पर कोरोना से सामना को लेकर दबाव बढ़ गया है। विपक्षी दलों ने जॉनसन पर आरोप लगाते हुए कहा, आंकड़े साबित करते हैं कि सरकारी अस्पतालों को सुरक्षा उपकरण मुहैया कराने में विफल साबित हुए हैं।) साथ ही जांच भी धीमी गति से हो रही है। साथ ही ब्रिटेन के आधिकारिक दस्तावेजों में यह भी कहा गया है कि देश में कोरोना प्रतिबंधों की मौत को भी इस आंकड़े में जोड़ा जाए तो संख्या 30 हजार से अधिक हो जाएगी। हालाँकि, विविधताएँ की संख्या इटली में बहुत है। इटली में 2,13,013 जबकि ब्रिटेन में 1,94,990 मरीज हैं।

इन राज्यों ने बिना किसी नुकसान के अर्थव्यवस्था खो दी
अमेरिका में इस सप्ताह आधा दर्जन से ज्यादा राज्यों ने कारोबार फिर से खोलने की अनुमति देे दी है जबकि महामारी के बढ़ते आंकड़ों में कोई राहत नहीं है। देश के मिनेसोटा, टेनेसी, टेक्सास, आयोवा, कंसास, इंडियाना और नेब्रास्का में लगातार वृद्धि जारी है लेकिन संक्रमण कम नहीं हुआ है। हालांकि न्यूयॉर्क सिटी, न्यू ऑर्लियंस व डेट्रोइट में कुछ सुधार देखा गया लेकिन शिकागो, लॉस एंजिस में हालात खराब हैं।

स्पेन: बेरोजगारी चार साल में सबसे अधिक
स्पेन में कोरोना के कारण लागू लॉकडाउन के कारण बेरोजगारों की संख्या 38 लाख हो गई है। पिछले चार साल में बेरोजगारी का यह आंकड़ा सबसे ज्यादा है। देश के श्रम मंत्रालय ने बताया, अप्रैल में 2,82,891 लोगों ने खुद को बेरोजगार के रूप में पंजीकृत कराया, जो मार्च की तुलना में आठ प्रतिशत अधिक था। आंकड़े पहले से ही बुरे थे, जो बढ़ते जा रहे हैं।

कनाडा: हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की खेप पहुंची …
कनाडा में भारत के महावाण सामान दूतावास ने कहा, भारत से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की 50 लाख पंक्तियों की पहली खेप शिकागो पहुंच गई है। कनाडा में संक्रमण के मामले में 60 हजार से ज्यादा हो गए हैं। मरने वालों की संख्या 3,854 हो गई।

ट्रंप प्रशासन की आंतरिक रिपोर्ट कहती है कि जून तक अमेरिका में संक्रमण के दो लाख मामले हो जाएंगे और रोज औसतन 3 हजार लोगों की मौतें होंगी। लेकिन देश की अर्थव्यवस्था इस कदर तबाह हो रही है कि राष्ट्रपति ट्रम्प लगातार अमेरिकी राज्यों पर आर्थिक हालात फिर से खोलने का दबाव बना रहे हैं। इस बीच देश के 6 से ज्यादा राज्य सेवाओं को फिर से खोलने की मंजूरी भी दे चुके हैं।

‘यॉर्क टाइम्स के हाथ लगे हुए आंतरिक दस्तावेज़ के मुताबिक, 1 जून को अमेरिका में दैनिक मौत का आंकड़ा लगभग 3,000 पहुंच जाएगा, जो अभी भी औसतन लगभग 1,750 के आंकड़ों के 70% की वृद्धि कर देगा। कागज प्रबंधन प्रबंधन एजेंसी ने सरकारी प्रशिक्षण के आधार पर महीने के अंत तक रोज 2 लाख नए मामलों के सामने आने का अनुमान भी जताया है, जो मौजूदा 25,000 दैनिक मामलों से काफी अधिक होंगे। ऐसे में निश्चित ही अर्थव्यवस्था को फिर से खोलने की कोशिशें पूरे महाद्वीप को तबाह कर सकती है।

वाशिंगटन विश्वविद्यालय में इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स और इवलुशन अब यह अनुमान लगाया जा रहा है कि अग की शुरुआत तक अमेरिका लगभग 1,35,000 मौतें होगी जो मौजूदा मौतों से करीब-करीब दुगना है। व्हाइट हाउस ने न्यूयॉर्क टाइम्स की इस रिपोर्ट को विवादास्पद बताया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *