• अपनी कुल 1.6 लाख की वर्कफोर्स में से 10 फीसदी को निकालने की योजना बना रही है कंपनी
  • कंपनी ने कर्मचारियों के लिए अपनी मर्जी से नौकरी छोड़ने का भी कार्यक्रम चला रखा है

दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 09:04 AM IST

नई दिल्ली. दुनिया की दिग्गज विमान निर्माता अमेरिकी कंपनी बोइंग ने 12 हजार कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है। इसमें से 6770 कर्मचारियों को इसी सप्ताह नौकरी से निकाल दिया जाएगा। जबकि करीब 5 हजार कर्मचारियों की छंटनी अगले सप्ताह की जाएगी। कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए मर्जी से नौकरी छोड़ने का कार्यक्रम चला रखा है। छंटनी में इस योजना के तहत नौकरी छोड़ने वाले कर्मचारी भी शामिल हैं।

कुल वर्कफोर्स में 10 फीसदी की कमी करना चाहती है बोइंग

बोइंग में करीब 1.6 लाख कर्मचारी काम करते हैं। कोरोना संक्रमण के कारण पूरी दुनिया में हवाई सफर प्रभावित हुआ है। कंपनी का मानना है कि इससे भविष्य में उसका कारोबार बुरी तरह से प्रभावित होगा। इसीलिए कंपनी ने अपनी कुल वर्कफोर्स में से 10 फीसदी कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है। बोइंग के प्रेसीडेंट और सीईओ डेविड कैलहोउन ने कर्मचारियों को लिखे पत्र में कहा कि पिछले महीने कर्मचारियों में कमी करने की घोषणा के तहत हमने स्वैच्छिक रूप से नौकरी छोड़ने के लिए कार्यक्रम चला रखा था। अब मुझे यह बताते हुए बड़ा दुख हो रहा है कि हमने कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है। इसके तहत इसी सप्ताह अमेरिका से 6770 कर्मचारियों को निकाला जाएगा।

नौकरी से निकाले जाने वाले कर्मचारियों को दी जाएगी आर्थिक मदद

कैलहोउन ने आगे कहा कि नौकरी से निकाले जाने वाले कर्मचारियों को कंपनी से अलग होने के लिए भुगतान के अलावा हरसंभव मदद दी जाएगी। इसके अलावा अमेरिका में नौकरी से निकाले जाने वाले कर्मचारियों को कोबरा हेल्थ केयर कवर दिया जाएगा। सीईओ ने कहा कि कंपनी अपने सभी अंतरराष्ट्रीय कार्यालयों में कर्मचारियों की कमी करने की योजना बना रहा है। इसकी जानकारी स्थानीय स्तर पर दी जाएगी। इन कर्मचारियों को भी स्थानीय कानूनों के तहत सभी प्रकार के लाभ दिए जाएंगे।

एयरलाइन इंडस्ट्री पर कोरोना का खतरनाक प्रभाव

सीईओ डेविड कैलहोउन ने कहा कि एयरलाइन इंडस्ट्री पर कोविड-19 का बहुत ही खतरनाक प्रभाव पड़ा है। इसका मतलब है कि आने वाले कुछ सालों में हमारे ग्राहक कमर्शियल जेट और अन्य सेवाओं की खरीदारी में बड़ी कटौती करेंगे। इससे हमारे पास काम की कमी होगी। उन्होंने कहा कि आने वाले सालों में जैसे ही एयरलाइन इंडस्ट्री में रिकवरी शुरू होगी, हम अपने कमर्शियल एयरलाइन ग्राहकों की आवश्यकताओं पर फोकस करेंगे।

कई अर्थव्यवस्था खुलने से दिख रही राहत

कैलहोउन के मुताबिक, कई अमेरिकी राज्यों और कुछ अन्य देशों ने अपनी अर्थव्यवस्था को खोल दिया है। उन्होंने कहा कि इससे थोड़ी राहत दिख रही है। डिफेंस समेत बोइंग के कारोबार का भी कुछ फिर से शुरू हो गया है। हम अपने ग्राहकों से किए वादों और क्रिटिकल स्किल पोजीशंस पर हायरिंग करते रहेंगे।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *