• इस सुविधा के तहत कुछ समय के लिए निवेश को रोका जा सकता है
  • ‘पॉज’ पीरियड खत्म होने के बाद फिर से आपकी क़िस्त कटने लगेगी

दैनिक भास्कर

May 27, 2020, 11:13 AM IST

नई दिल्ली. कोरोना के कारण जारी लॉकडाउन के कारण लोगों को पैसों की तंगी का सामना करना पड़ रहा है। इस कारण कई लोग निवेश बंद करके अपना पैसा निकालने पर विचार कर रहे हैं। अगर आप भी म्यूचुअल फंड में निवेश रोकने की सोच रहे हैं तो इसे रोकने की बजाए इसे ‘पॉज’ कर सकते हैं। इससे आपको 1 से 6 महीने तक एसआईपी में पैसे जमा नहीं करने पड़ेंगे। यह सु​विधा ज्यादातर म्यूचुअल फंड हाउस दे रहे हैं। हम आपको इसके बारे में बता रहे हैं।

क्या है ‘पॉज’ की सुविधा?
इस सुविधा के तहत आप कुछ समय के लिए निवेश को रोक सकते हैं। पहले यह सुविधा 1 से 3 महीने की थी, लेकिन अब कुछ फंड हाउस ने इसे 1 से 6 महीने किया है। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि अगर आप 6 महीने के लिए एसआईपी ‘पॉज’ करते हैं तो 6 महीने बाद एसआईपी अपने आप खुद कटने लगेगी। इस पर कोई अतिरिक्त ब्याज नहीं देना होगा।

कैसे ले सकते हैं इसका फायदा?
अगर आप भी एसआईपी ‘पॉज’ की सुविधा लेना चाहते हैं तो एसेट मैनेजमेंट कंपनी को मेल या फोन के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी। अगर कंपनी 1 से 6 महीने के लिए यह सुविधा दे रही है तो आप कम से कम 1 महीने और ज्यादा से ज्यादा 6 महीने के लिए ही एसआईपी पॉज कर सकते हैं। मेल में आपको अपने फोलियो नंबर की जानकारी देनी होगी। जिसके  बाद कंपनी आपको यह सुविधा देगी। ‘पॉज’ पीरियड खत्म होने के बाद फिर से आपकी क़िस्त कटने लगेगी। कोई भी व्यक्ति इसका फायदा ले सकता है। 

कौन- कौन से फंड हाउस दे रहे सुविधा

निवेश को बंद करना सही नहीं

एसआईपी बंद नहीं करना चाहिए क्योंकि आने वाले दिनों में बाजार में रिकवरी आने की उम्मीद है। अभी इस सुविधा का लाभ लेते हैं तो 3 से 6 महीने तक एसआईपी में पैसा नहीं डालना होगा। अगर आपको लगे कि ‘पॉज’ पीरियड के बाद बाजार के सेंटीमेंट सुधर रहे हैं तो उसके बाद एसआईपी जारी रख सकते हैं। अगर बाजार में सब कुछ ठीक न लग रहा हो तो इसे बंद कर सकते हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *