ख़बर सुनें

सार्वजनिक क्षेत्र की ऑयल इंडिया लिमिटेड (ऑयल) के असम स्थित गैस के कुंए में बुधवार को विस्फोट (ब्लोआउट) हुआ। इसके बाद तिनसुकिया जिले में संयंत्र के आसपास के इलाके को खाली कराना शुरू कर दिया गया। अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

कंपनी ने कहा कि कुंए से प्राकृतिक गैस के अचानक अनियंत्रित तरीके से बाहर निकलने के बाद परिचालन रोक दिया गया है। हालांकि अभी यह स्प्ष्ट नहीं है कि विस्फोट के साथ कुंए में आग लगी है या नहीं।

कंपनी ने कहा, ‘बुधवार 27 मई को सुबह साढ़े दस बजे के करीब तिनसुकिया जिले में बागजान तेलक्षेत्र के तहत आने वाले बागजान-5 कुंए में अचानक से बहुत हलचल देखी गई। उस समय वहां गैस उत्पादन का काम चालू था।’

ऑयल ने कहा कि कुंए में विस्फोट को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी का छिड़काव किया गया है। साथ ही ब्लोआउट को रोकने वाली प्रणाली को लगाया गया है। कुंए के आसपास वाले इलाके से स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

क्या होता है ब्लोआउट
तेल एवं गैस क्षेत्र में जब कभी कुंए के अंदर दबाव अधिक हो जाता है तो उसमें अचानक से विस्फोट होता है और कच्चा तेल या प्राकृतिक गैस अनियंत्रित तरीके से बाहर आने लगती है। इसे ही ब्लोआउट कहा जाता है। यह स्थिति कुंए के अंदर दबाव बनाए रखने वाली प्रणाली के सही तरीके से काम नहीं करने के चलते बनती है।

सार्वजनिक क्षेत्र की ऑयल इंडिया लिमिटेड (ऑयल) के असम स्थित गैस के कुंए में बुधवार को विस्फोट (ब्लोआउट) हुआ। इसके बाद तिनसुकिया जिले में संयंत्र के आसपास के इलाके को खाली कराना शुरू कर दिया गया। अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

कंपनी ने कहा कि कुंए से प्राकृतिक गैस के अचानक अनियंत्रित तरीके से बाहर निकलने के बाद परिचालन रोक दिया गया है। हालांकि अभी यह स्प्ष्ट नहीं है कि विस्फोट के साथ कुंए में आग लगी है या नहीं।

कंपनी ने कहा, ‘बुधवार 27 मई को सुबह साढ़े दस बजे के करीब तिनसुकिया जिले में बागजान तेलक्षेत्र के तहत आने वाले बागजान-5 कुंए में अचानक से बहुत हलचल देखी गई। उस समय वहां गैस उत्पादन का काम चालू था।’

ऑयल ने कहा कि कुंए में विस्फोट को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी का छिड़काव किया गया है। साथ ही ब्लोआउट को रोकने वाली प्रणाली को लगाया गया है। कुंए के आसपास वाले इलाके से स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

क्या होता है ब्लोआउट
तेल एवं गैस क्षेत्र में जब कभी कुंए के अंदर दबाव अधिक हो जाता है तो उसमें अचानक से विस्फोट होता है और कच्चा तेल या प्राकृतिक गैस अनियंत्रित तरीके से बाहर आने लगती है। इसे ही ब्लोआउट कहा जाता है। यह स्थिति कुंए के अंदर दबाव बनाए रखने वाली प्रणाली के सही तरीके से काम नहीं करने के चलते बनती है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *