असम में रैली को संबोधित करते हुए गृह मंत्री अमित शाह
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

पश्चिम बंगाल और असम समेत देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह विधानसभा चुनाव में भाजपा को मजबूती देने रविवार को असम पहुंचे हैं। असम में एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि ये चुनाव असम के भविष्य के निर्माण करने का चुनाव है।

केंद्रीय मंत्री शाह ने कहा कि आज हम यहां पर आने वाले असम विधानसभा चुनाव में अगली सरकार किसकी बनेगी, इसके निर्णय के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा, वो तय करना है।

अमित शाह ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव आता है तो विपक्ष के नेताओं के भाषण सुनते हैं तो सरकार के भ्रष्टाचार के किस्से सुनाई पड़ते हैं। मगर हमारे मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और हेमंत विश्व शर्मा ने पांच साल ऐसी सरकार चलाई है किविपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता। उन्होंने कहा कि असम में कई जगह घुसपैठियों ने अतिक्रमण कर रखा था। असम की जनता का अधिकार छीना जाता था। भाजपा की सरकार ने घुसपैठियों का अतिक्रमण हटाने का काम किया है। इतने साल से कांग्रेस सरकार ये काम नहीं कर पाई, क्योंकि उन्हें घुसपैठियों में वोटबैंक दिखता।

गृह मंत्री शाह ने कहा कि हमने कहा था कि असम को घुसपैठियों से मुक्त करेंगे, वो काम लगभग पूरा हो चुका है। हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है।
 

पश्चिम बंगाल और असम समेत देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह विधानसभा चुनाव में भाजपा को मजबूती देने रविवार को असम पहुंचे हैं। असम में एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि ये चुनाव असम के भविष्य के निर्माण करने का चुनाव है।

केंद्रीय मंत्री शाह ने कहा कि आज हम यहां पर आने वाले असम विधानसभा चुनाव में अगली सरकार किसकी बनेगी, इसके निर्णय के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों में आप सभी को पांच साल असम का शासन किस पार्टी और किस व्यक्ति के हाथ में रहेगा, वो तय करना है।

अमित शाह ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि चुनाव आता है तो विपक्ष के नेताओं के भाषण सुनते हैं तो सरकार के भ्रष्टाचार के किस्से सुनाई पड़ते हैं। मगर हमारे मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और हेमंत विश्व शर्मा ने पांच साल ऐसी सरकार चलाई है किविपक्ष भी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता। उन्होंने कहा कि असम में कई जगह घुसपैठियों ने अतिक्रमण कर रखा था। असम की जनता का अधिकार छीना जाता था। भाजपा की सरकार ने घुसपैठियों का अतिक्रमण हटाने का काम किया है। इतने साल से कांग्रेस सरकार ये काम नहीं कर पाई, क्योंकि उन्हें घुसपैठियों में वोटबैंक दिखता।

गृह मंत्री शाह ने कहा कि हमने कहा था कि असम को घुसपैठियों से मुक्त करेंगे, वो काम लगभग पूरा हो चुका है। हमने कहा था कि असम को आतंकवाद से मुक्त करेंगे, लगभग 2000 से ज्यादा लोगों ने हथियार डालकर मुख्यधारा में वापसी की है।

 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *