न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sat, 23 May 2020 10:05 PM IST

ख़बर सुनें

गुजरात के अहमदाबाद में स्थित एक अस्पताल में शनिवार को कोरोना वायरस के एक मरीज को निगेटिव रिपोर्ट के आधार पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जबकि यह रिपोर्ट उसी के नाम के एक अन्य व्यक्ति की थी। घटना शहर के सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल की है। 

बाद में अस्पताल प्रशासन ने अपनी गलती मानते हुए माफीनामा जारी किया। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि यह मानवीय थी जिसे तुरंत सुधार लिया गया। जिस व्यक्ति को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी उसे कुछ घंटे बाद ही वापस लाकर दोबारा भर्ती कर लिया गया है। 

अस्पताल की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, गुरुवार को अस्पताल को एक ही नाम के दो मरीजों के नमूनों की जांच रिपोर्ट पांच घंटे के अंतराल में मिलीं। दो बजे जो पहली रिपोर्ट मिली, वह निगेटिव थी, उसके आधार पर इन दोनों में से एक को छुट्टी दे दी गई।

बयान में कहा गया है, उसी नाम के दूसरे मरीज के नमूने की रिपोर्ट शाम करीब सात बजे मिली और उसमें संक्रमण मिला था। दूसरी रिपोर्ट मिलने के बाद ही पता चल गया कि जिस मरीज को दोपहर में अस्पताल से छुट्टी दी गई थी, वाकई उसी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी।

अस्पताल प्रशासन ने कहा कि मानवीय भूल का पता चलते ही छुट्टी पाने वाले मरीज को सूचित किया गया और तत्काल उसे वापस अस्पताल लाने के लिए एंबुलेंस भेजी गई। अस्पताल प्रबंधन ने मेडिकल टीम को ऐसे मामलों में विशेष सावधानी बरतने का सख्त निर्देश दिया है।

अस्पताल ने कहा कि यहां अब तक कोविड-19 के 4131 मरीजों का इलाज हुआ है। बता दें कि शनिवार सुबह तक अहमदाबाद शहर में कोविड-19 के 9,577 मामले सामने आए थे। उनमें से 638 मरीजों की मौत हो गई। फिलहाल 5190 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

गुजरात के अहमदाबाद में स्थित एक अस्पताल में शनिवार को कोरोना वायरस के एक मरीज को निगेटिव रिपोर्ट के आधार पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जबकि यह रिपोर्ट उसी के नाम के एक अन्य व्यक्ति की थी। घटना शहर के सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल की है। 

बाद में अस्पताल प्रशासन ने अपनी गलती मानते हुए माफीनामा जारी किया। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि यह मानवीय थी जिसे तुरंत सुधार लिया गया। जिस व्यक्ति को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी उसे कुछ घंटे बाद ही वापस लाकर दोबारा भर्ती कर लिया गया है। 

अस्पताल की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, गुरुवार को अस्पताल को एक ही नाम के दो मरीजों के नमूनों की जांच रिपोर्ट पांच घंटे के अंतराल में मिलीं। दो बजे जो पहली रिपोर्ट मिली, वह निगेटिव थी, उसके आधार पर इन दोनों में से एक को छुट्टी दे दी गई।

बयान में कहा गया है, उसी नाम के दूसरे मरीज के नमूने की रिपोर्ट शाम करीब सात बजे मिली और उसमें संक्रमण मिला था। दूसरी रिपोर्ट मिलने के बाद ही पता चल गया कि जिस मरीज को दोपहर में अस्पताल से छुट्टी दी गई थी, वाकई उसी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी।

अस्पताल प्रशासन ने कहा कि मानवीय भूल का पता चलते ही छुट्टी पाने वाले मरीज को सूचित किया गया और तत्काल उसे वापस अस्पताल लाने के लिए एंबुलेंस भेजी गई। अस्पताल प्रबंधन ने मेडिकल टीम को ऐसे मामलों में विशेष सावधानी बरतने का सख्त निर्देश दिया है।

अस्पताल ने कहा कि यहां अब तक कोविड-19 के 4131 मरीजों का इलाज हुआ है। बता दें कि शनिवार सुबह तक अहमदाबाद शहर में कोविड-19 के 9,577 मामले सामने आए थे। उनमें से 638 मरीजों की मौत हो गई। फिलहाल 5190 मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *