रिपोर्टर डेस्क, अमर उजाला, अहमदाबाद
अपडेटेड सन, 10 मई 2020 05:22 PM IST

सैंपल लेना स्वास्थ्यकर्मी (फाइल फोटो)
– फोटो: पीटीआई

ख़बर सुनता है

गुजरात के अहमदाबाद में अभी तक कोरोनावायरस के 334 ‘सुपर स्प्रेडर्स’ (ज्यादा लोगों में संक्रमण फैलाने वाले शख्स) पाए गए हैं। एक अधिकारी ने बताया कि यह एक मुख्य कारण है, जिसके कारण से यहां सब्जियों और सब्जियों की दुकानों को 15 मई तक बंद करने का फैसला किया गया है।

जिले में कोरोनावायरस संबंधी निगरानी और समन्यवय स्थापित करने के लिए नियुक्त किए गए अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव गुप्ता ने कहा कि दो दिन में लगभग 2000 सार्थक सुपर स्प्रेडर्स की स्क्रीनिंग की गई है और नगर पालिका ने सात मई से 15 मई तक एक सप्ताह के लिए दूध और ड्रग्स को छोड़ कर बाकी सभी दुकानों को बंद रखने का निर्देश है।

एक अधिकारी ने कहा कि उनका मानना ​​है कि अहमदाबाद में लगभग 14 हजार सुपर स्प्रेडर हो सकते हैं और अगले तीन दिनों में इन सब की स्क्रीनिंग प्रदान का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही जिले के उपनगरों और ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्क्रीनिंग की गई है।

अहमदाबाद नगर पालिका ने 20 अप्रैल से निगरानी कार्यक्रम के तहत ऐसे लोगों की पहचान करनी शुरू कर दी थी और अभी तक ऐसे संशोधनों के 3,817 सैंपल लिए जा चुके हैं। अधिकारी ने बताया कि इन 3,817 सैंपल में से 334 की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बता दें कि शनिवार तक गुजरात में कोरोनावायरस के 7,797 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं वहीं इस जीवनलेवा महामारी से 472 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से अकेले अहमदाबाद में 5,540 मामले सामने आए हैं और 363 लोगों की मौत हुई है।

सार

सुपर स्प्रेडर्स ऐसे लोग होते हैं जो बीमारी को ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं। ये सब्जी वाले, चीनी स्टोर वाले, दूध वाले, पेट्रोल पंप कर्मी या कूड़ा जमा करने वाले हो सकते हैं। इनका काम ऐसा होता है कि उनके प्रकार होने और उनके द्वारा दूसरों तक संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा होता है।

विस्तार

गुजरात के अहमदाबाद में अभी तक कोरोनावायरस के 334 ‘सुपर स्प्रेडर्स’ (ज्यादा लोगों में संक्रमण फैलाने वाले शख्स) पाए गए हैं। एक अधिकारी ने बताया कि यह एक मुख्य कारण है, जिसके कारण से यहां सब्जियों और सब्जियों की दुकानों को 15 मई तक बंद करने का फैसला किया गया है।

जिले में कोरोनावायरस संबंधी निगरानी और समन्यवय स्थापित करने के लिए नियुक्त किए गए अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव गुप्ता ने कहा कि दो दिन में लगभग 2000 सार्थक सुपर स्प्रेडर्स की स्क्रीनिंग की गई है और नगर पालिका ने सात मई से 15 मई तक एक सप्ताह के लिए दूध और ड्रग्स को छोड़ कर बाकी सभी दुकानों को बंद रखने का निर्देश है।

एक अधिकारी ने कहा कि उनका मानना ​​है कि अहमदाबाद में लगभग 14 हजार सुपर स्प्रेडर हो सकते हैं और अगले तीन दिनों में इन सब की स्क्रीनिंग प्रदान का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही जिले के उपनगरों और ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्क्रीनिंग की गई है।

अहमदाबाद नगर पालिका ने 20 अप्रैल से निगरानी कार्यक्रम के तहत ऐसे लोगों की पहचान करनी शुरू कर दी थी और अभी तक ऐसे संशोधनों के 3,817 सैंपल लिए जा चुके हैं। अधिकारी ने बताया कि इन 3,817 सैंपल में से 334 की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बता दें कि शनिवार तक गुजरात में कोरोनावायरस के 7,797 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं वहीं इस जीवनलेवा महामारी से 472 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से अकेले अहमदाबाद में 5,540 मामले सामने आए हैं और 363 लोगों की मौत हुई है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *