नई दिल्ली: मेक्सिको सिटी से हमारे संवाददाता सिद्धांत सिब्बल से बात करते हुए, मेक्सिको में भारत के राजदूत मनप्रीत वोहरा ने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच में हाल में हुई चर्चा पर बात की। उन्होंने बताया कि मिशन किस तरह से वहां फंसे हुए भारतीयों की मदद कर रहा है। उन्होंने बताया कि अभी तक भारतीय समुदाय के किसी भी व्यक्ति में COVID-19 के संक्रमण की शिकायत दर्ज नहीं की गई है। लगभग 265 भारतीयों ने देश वापसी के लिए दूतावास में पंजीकरण कराया है।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने मेक्सिको के विदेश मंत्री से बात की, हम को विभाजित संकट के समय अपने देश तक कैसे पहुंच रहे हैं? क्या इस बाबत में कोई सहयोग मिल रहा है?

मनप्रीत वोहरा: भारतीय विदेश मंत्रालय और मेक्सिको के विदेश सचिव मारसेलो ईब्रार्ड ने कोविद -19 की स्थिति और विभिन्न रणनीतियों का पालन करने के बारे में बातचीत की है। उन्होंने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि भारत और मेक्सिको अपने बेहतर स्वास्थ्य अनुभवों को साझा करेंगे। उन्होंने आर्थिक सुधार पर भी बातचीत की।

क्या हमने उनके साथ कोरोना से सामना करने के मॉडल के बारे में बात की है या उन्होंने हमारे मॉडल में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है?

मनप्रीत वोहरा: भारतीय विदेश मंत्रालय ने मेक्सिको के विदेश सचिव को बताया कि मेक्सिको के अनुरोध पर, भारत सरकार ने मेक्सिको को 2.50 एमटी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन इंजीनियरिंग के कमर्शियल एक्स को मंजूरी दी है।

मेक्सिको में कितने भारतीय फंसे हैं और हम उन तक कैसे पहुंच रहे हैं?

मनप्रीत वोहरा: मेक्सिको में फंसे करीब 265 भारतीय हमारे संपर्क में हैं, जो जल्द ही घर लौटना चाहते हैं। दूतावास उनके साथ नियमित रूप से जुड़ा हुआ है और उनके लिए 24×7 आपातकालीन संपर्क सेवा उपलब्ध है। उनके वीजा एक्सटेंशन या रहने की व्यवस्था आदि की जरूरतें पूरी की जा रही हैं। उनके हाल के लेने के लिए मैंने खुद फेसबुक लाइव पर उनसे बात की है। वे सब ठीक हैं। मेक्सिको में 6500 भारतीयों में से कोई भी अब तक संभावित नहीं हुआ है। मुझे उनपर गर्व है, मुझे खुशी है कि वे सभी सावधानी बरत रहे हैं, सोशल डिस्टेंसिंग और मैक्सिकन सरकार के दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं।

जमीनी परिस्थिति कैसी हैं और हमारे राजनयिक किस तरह से काम कर रहे हैं, क्या ये मुश्किल है?
मनप्रीत वोहरा: मेक्सिको में कोरोना के मामले में लगातार बढ़ रहे हैं और स्वास्थ्य सेवाओं को चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। पिछले कुछ दिनों में, मैक्सिकन सरकार ने अस्पताल की क्षमता और सुरक्षा सुविधाओं को बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत की है। दूतावास में मेरे सहयोगी और उनके परिवार सुरक्षित हैं। हम सभी लोग आवश्यक सावधानी बरत रहे हैं। हम ज्यादातर घर से ही काम कर रहे हैं और तकनीक का सही इस्तेमाल कर रहे हैं। और यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि हमारे किसी भी काम में कोई परेशानी न आए। लॉकडाउन किसी के लिए भी मुश्किल हो सकता है, ये संकट का समय है, लेकिन हमारा विश्वास है कि हम इस चुनौती का सामना करेंगे और इस पर जीत हासिल करेंगे।

लाइव टीवी





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *