• सोमवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2.16 प्रतिशत गिरकर 1,434 रुपए पर बंद हुआ
  • राइट्स इस्यू की कीमत सोमवार के भाव से लगभग 13 प्रतिशत कम 1,257 रुपए तय की गई है

दैनिक भास्कर

04 मई, 2020, 03:43 PM IST

मुंबई। देश की सबसे मूल्यवान कंपनियों में से एक रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) जून के अंत तक राइट्स इश्यू से 53,125 करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई है। पिछले दिनों बोर्ड बैठक में इसकी घोषणा की गई। आरआईएल एशिया के सबसे अमीर बिजनेस मैन मुकेश अंबानी की मालिकाना हक वाली कंपनी है। यह रकम इस्सू का आप पर कितना असर हो सकती है, इसका आपको पूरा होमवर्क करना चाहिए। पैसे लगाने से पहले आपको इस बारे में पूरा बहु गणित द्वारा ही निर्णय लेना चाहिए। विनियमन पर हर बात अच्छी तरह से नहीं होती है और खासकर तब, जब मामला शेयरों का हो। क्योंकि शेयरों की कारें कभी स्थिर नहीं होती हैं। हो सकता है कि आपने शेयर विनियमन पर लिया है और अगले दिन उसकी कीमत कीमत से भी नीचे चली गई है। ऐसे में आपको घाटा हो सकता है। शेयरों की कीमतों के ऊपर-नीचे होने की पूरी संभावना बराबर बनी रहती है।

क्यों?

दरअसल मुकेश अंबानी वित्तीय वर्ष 2021 तक आरआईएल को कर्ज मुक्त करने का उद्देश्य रखते हैं। उन्होंने सउदी अरामको के साथ डील से बड़ा हिस्सा बेचकर पैसे कमाने की तैयारी की थी। लेकिन तेल की कीमतों में भयानक गिरावट ने उनकी इस योजना पर पानी फेर दिया। कंपनी उसके बाद फेसबुक, बीपी और सिल्वर होल्ड से पैसे जुटाई है। साथ ही वह इस रकम को इश्यू के जरिए भी पैसे जुटाकर किसी तरह कर्ज को चुकाना चाहता है।

निवेशकों के लिए क्या और कैसे?

कंपनी की ओर से जारी शर्तों के मुताबिक इसमें वही निवेशक भाग ले सकता है, जिसके पास पहले से कंपनी के शेयर हों। पहले के हर 15 शेयर पर राइट्स इश्यू का एक शेयर मिलेगा। यानी आपके पास अगर 90 शेयर पहले से हैं तो आपको 6 शेयर राइट्स इश्यू से मिलेंगे। इसकी प्रति शेयर कीमत 1,257 रुपए होगी। यानी आज की कीमत 1,419 रुपये के हिसाब से 13 प्रतिशत कम है। इसका अर्थ यह हुआ कि वर्तमान निवेश विनियम के मूल्य पर और शेयर खरीद सकते हैं। हालाँकि इस अधिसूचना से आपके वर्तमान शेयर पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

वर्तमान के 15 शेयर पर एक शेयर राइट्स इश्यू में मिलेगा

अगर आपके पास रेव्स इश्यू से पहले 120 शेयर हैं और 1,464 रुपए के हिसाब से इसकी कीमत 175,680 रुपए होगी। आपको उल्लू इश्यू में 8 शेयर मिलता है, इसकी कीमत 10,056 रुपए होगी। इस तरह से आपके कुल 128 शेयरों की कीमत 185,736 रुपए होगी। कुल मिलाकर आपको विनियमन पर जो शेयर मिलेगा, वह आपके वर्तमान शेयरों को किसी भी तरह से प्रभावित नहीं करेगा। यह अनुमान है कि कीमत पर है, जब यह मान लिया जाएगा कि आरआईएल के शेयरों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं होगा। हालांकि ऐसा नहीं होता है। शेयरों में बदलाव होते रहते हैं और इससे आपके निवेश में घाटा या लाभ भी हो सकता है।

आपको क्या लेना चाहिए?

यहां तक ​​कि अगर आप यह उम्मीद पाले बैठे हैं कि आरआईएल का शेयर भविष्य में बढ़ सकता है तो आपको लेना चाहिए। लेकिन ध्यान रखें कि जिस तरह से 23 मार्च को यह शेयर 875 रुपए के साथ साल के निचले स्तर पर चला गया था, उसी तरह से इसमें आगे गिरावट भी हो सकती है। हालाँकि यह निश्चित नहीं है। आपको यदि गिरावट होती है तो आपको उस समय के राइट्स इश्यू से भी कम भाव में शेयर मिल सकते हैं और इसमें राइट्स इश्यू की अधिसूचनाएं भी लागू नहीं होंगी। आप चाहे जितने शेयर खरीद सकते हैं।

कंपनी पर इसका क्या असर होगा?

आरआईएल राइट्स इस्यू से प्राप्त धन का उपयोग ऋण चुकाने के लिए करेगा। लेकिन अगर इसी दौरान शेयरों की कीमतों में ज्यादा गिरावट आती है तो फिर इस निवेश के इश्यू से हाथ खींच सकते हैं। ऐसे में कंपनी की इस योजना को झटका भी लग सकता है। हालांकि अगर राइट्स इश्यू को ऑपरेटर्स से पैसा नहीं मिलता है तो फिर प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप सब्सक्राइब करेंगे। इसका अर्थ यह है कि मुकेश अंबानी और उनके परिवार आरआईएल के शेयर को राइट्स इश्यू में खरीदेंगे। प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप के पास कंपनी की करीबन 50 प्रतिशत हिस्सेदारी है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *