नई दिल्ली: तानाशाह किम जोंग उन (किम जोंग उन) North नॉर्थ कोरिया (उत्तर कोरिया) ने सस्पेंस खत्म कर दिया है। 20 दिन बाद जब तानाशाह किम फिर से दुनिया के सामने आ गया है तब उसके पास तबाही का नया फॉर्मूला है। तानाशाह किम जोंग ने अपने अज्ञातवास में कई सा जिशों को सिरे चढ़ाया है। उसने सबसे बड़ी मुसीबत तो अपने कट्टर दुश्मन दक्षिण कोरिया के लिए खड़ी कर दी है। तानाशाह की वापसी के साथ ही कोरियाई बॉर्डर पर तनाव बढ़ गया है। जो एक बड़े संकट का संकेत दे रहा है।

दुनिया इस सस्पेंस में थी कि नॉर्थ कोरिया का सनकी तानाशाह किम जोंग उन जिंदा है या मर गया है। दुनिया भरी देश उत्तर कोरिया के अंदर ये पता लगाने की कोशिश कर रही थी कि आखिरकार उसम जोंग उन का क्या हुआ। 20 दिन की गुमशुदगी के बाद उत्तर कोरिया से एक फैक्ट्री के उद्घाटन का वीडियो सामने आया और दावा किया गया किम जोंग उन पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

जोन्स बॉर्डर पर एक्शन शुरू
इधर, तानाशाह का सस्पेंस खत्म हुआ उधर कोरिया में एश शुरू हो गया है। उसम जोंग उन के 20 दिन तक गायब रहने के बाद लौटने के साथ ही उत्तरथ और दक्षिण कोरिया के बीच माहौल बिगड़ने लगा है। जोंग की वापसी के साथ उत्तरथ कोरिया की ओर से आक्रामकता दिखाई जा रही है।

ये भी पढ़ें- दक्षिण कोरिया का दावा- ‘किम जोंग उन की कोई सर्जरी नहीं हुई और न ही कोई हुआ इलाज’

फर्टिलाइजर फैक्ट्री के उद्धरणों का राज़
किम जोंग उन ने जिस फर्टिलाइजर फैक्ट्री का उद्धघाटन किया था उसकी सूची नॉर्थ कोरिया की एटमी कंप्यूटिंग से जुड़ रही है। लेकिन सबसे अधिक तनाव बढ़ाने वाली बात ये है कि उसम जोंग की वापसी के बाद कई साल से शांत चल रही हो रही नॉर्थ ओर साउथ कोरिया की सीमाओं से तनाव की चिंगारी भड़क रही हैं ..

कोरियाई देशों के बीच फायरिंग
तानाशाह किम के पब्लिक में दिखते ही नॉर्थ और साउथ कोरिया के बीच सीमा पर फायरिंग की खबरें आ रही हैं। दक्षिण कोरिया ने आरोप लगाया है कि नॉर्थ कोरिया के सैनिकों ने गार्ड पोस्ट पर फायरिंग की। आरोप है कि प्योंगयांग के सैनिकों ने दक्षिण कोरिया के रक्षक पोस्ट पर कई राउंड गोलियां चलाई। नॉर्थ कोरिया की फायरिंग का साउथ कोरिया की ओर से जवाब दिया गया है। जवाबी कार्रवाई में दक्षिण कोरिया ने नॉर्थ कोरिया पर दो राउंड गोलियां चलाई हैं।

तीन साल बाद फायरिंग ने मचाई खलबली की
कोमोडोर (रिटा।) रक्षा विशेषज्ञ शैलेन्द्र सिंह का कहना है कि नॉर्थ कोरिया और दक्षिण कोरिया की दुश्मनी काफी पुरानी है। ठीक भारत और पाकिस्तान की तरह। लेकिन भारत पाकिस्तान बॉर्डर की तरह यहां अक्सर सीज़फायर का उल्लंघन नहीं होता है। तीन साल बाद नॉर्थ और साउथ कोरिया के बीच फायरिंग की कोई घटना नहीं हुई है।

महायुद्ध की तैयारी कर रहा है तानाशाह?
हालांकि दक्षिण कोरिया की ओर से किसी भी तरह के नुकसान न होने की बात बताई गई है। लेकिन नॉर्थ कोरिया से इस बारे में अभी तक कोई सूचना नहीं आई है। दरअसल उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की आक्रामकता और सनक कभी भी इस इलाके में महाविनाश को आमंत्रित कर रही है। तानाशाह का दिमाग फिरा तो वह भी कभी कोई खतरनाक कदम उठा सकता है।

वर्तमान में दुनिया के सबसे खतरनाक क्षेत्रों में शुमार कोरियाई बॉर्डर इस वक्त सुलग रहा है। तानाशाह किम जोंग उन की वापसी के बाद इस बात पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं कि क्या किसी बड़े मिशन की तैयारी के लिए तानाशाह भूमिगत हुआ था। क्या तानाशाह का ये गुप्त मिशन कोई बड़ा तबाही ला सकता है?

रिपोर्ट





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *