न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
अपडेटेड सोम, 04 मई 2020 11:53 AM IST

ख़बर सुनता है

प्रवासी कामगारों के लिए रणनीति तैयार

प्रवासी श्रमिकों के वापस आने के बाद उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए योगी सरकार ने रणनीति तैयार कर ली है। कामगारों को उनके गृह जिले तक पहुंचाने के लिए 10,000 बसों की व्यवस्था की गई है। गृह जिला पहुंचने के बाद उन्हें शासन के क्वारंटीन केंद्र ले जाया जाएगा, जहां उनका स्वास्थ्य चेक अप होगा। इसके बाद उनके लिए होम क्वारंटीन किया जाएगा या अस्पतालों में भेजा जाएगा। इस कार्य के लिए पूरे प्रदेश में 50,000 से अधिक मेडिकल टीमें लगाई गई हैं।

पाँच नए रोगी
झांसी के हल्स्पोट ओरछा गेट मोहल्ले में रहने वाले पांच अन्य लोग कोरोनाटे पाए गए हैं। इसके साथ ही झांसी में मरीजों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। हॉटस्पॉट, आभूषणमेंट जोन सहित झांसी के अलग-अलग क्षेत्रों के 28 लोगों की जांच रिपोर्ट महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज की स्थिति को विभाजित करने वाली जापान में भेजी गई थी। इनमें से 23 की रिपोर्ट निगेटिव आई, जबकि पांच लोग पॉजिटिव मिले हैं। सभी रोगियों को मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है।

संतकबीरनगर: देवबंद से आए छात्र की चाची टाइप
संतकबीरनगर जिले में एक और महिला में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि संदिग्ध महिला देवबंद से आया मघर के रहने वाले छात्र की रिश्ते की चाची है। अब तक छात्रा सहित उसके परिवार व संपर्क में 21 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं जिले में कुलटेन्स की संख्या 28 हो गई है।

प्रदेश के 64 जिले
रविवार को 139 नए मामले मिलने के बाद प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 2663 हो गई है। वहीं कोरोना संक्रमण ने 64 जिलों को अपनी चपेट में ले लिया है।

सार

उत्तर प्रदेश में कोरोनाटेन्स की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। रविवार को 139 नए मामले मिलने के बाद कुल मरीजों की संख्या 2669 हो गई। वहीं कोरोना संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 44 हो गया है। प्रदेश के 64 जिलों के चपेट में आ चुके हैं। यहां पढ़ें उत्तर प्रदेश में कोरोना से जुड़े हर अपडेट-

विस्तार

प्रवासी कामगारों के लिए रणनीति तैयार

प्रवासी श्रमिकों के वापस आने के बाद उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए योगी सरकार ने रणनीति तैयार कर ली है। कामगारों को उनके गृह जिले तक पहुंचाने के लिए 10,000 बसों की व्यवस्था की गई है। गृह जिला पहुंचने के बाद उन्हें शासन के क्वारंटीन केंद्र ले जाया जाएगा, जहां उनका स्वास्थ्य चेक अप होगा। इसके बाद उनके लिए होम क्वारंटीन किया जाएगा या अस्पतालों में भेजा जाएगा। इस कार्य के लिए पूरे प्रदेश में 50,000 से अधिक मेडिकल टीमें लगाई गई हैं।

पाँच नए रोगी

झांसी के हल्स्पोट ओरछा गेट मोहल्ले में रहने वाले पांच अन्य लोग कोरोनाटे पाए गए हैं। इसके साथ ही झांसी में मरीजों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। हॉटस्पॉट, आभूषणमेंट जोन सहित झांसी के अलग-अलग क्षेत्रों के 28 लोगों की जांच रिपोर्ट महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज की स्थिति को विभाजित करने वाली जापान में भेजी गई थी। इनमें से 23 की रिपोर्ट निगेटिव आई, जबकि पांच लोग पॉजिटिव मिले हैं। सभी रोगियों को मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है।

संतकबीरनगर: देवबंद से आए छात्र की चाची टाइप
संतकबीरनगर जिले में एक और महिला में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि संदिग्ध महिला देवबंद से आया मघर के रहने वाले छात्र की रिश्ते की चाची है। अब तक छात्रा सहित उसके परिवार व संपर्क में 21 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं जिले में कुलटेन्स की संख्या 28 हो गई है।

प्रदेश के 64 जिले
रविवार को 139 नए मामले मिलने के बाद प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 2663 हो गई है। वहीं कोरोना संक्रमण ने 64 जिलों को अपनी चपेट में ले लिया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *