• सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए राइड शुरू करने से पहले ड्राइवर को भेजनी होगी सेल्फी
  • राइड के दौरान ड्राइवर एसी नहीं गए हैं, खिड़की खोलने की अनुमति

दैनिक भास्कर

04 मई, 2020, 06:14 बजे IST

नई दिल्ली। देशव्यापी लॉकडाउन 17 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। हालांकि, केंद्र सरकार ने देशभर के जिलों को तीन जोन में बांटे दिशा-निर्देश जारी किए हैं। ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन में बांटे गए जिलों में कई तरह की छूट दी जा रही हैं। सरकार ने के गाइडलाइन के अनुसार, सोमवार को दिग्गज कैब हेलिंग कंपनी ओला और उबर ने देश के कुछ हिस्सों में सेवा शुरू की है। बता दें कि ओला और उबर की सर्विस ग्रीन और ऑरेंज जोन में शुरू कर दी गई है।

इन 100 शहरों में ओला की सेवा शुरू हुई
ओला ने अपनी वेबसाइट पर देश के 100 शहरों की एक लिस्ट पोस्ट की है। लॅकडाउन 3.0 के दौरान दिल्ली, गुरुग्राम, गाजियाबाद, अंबाला, शिमला, रेवाड़ी, पानीपत, पलवल, मंडी, मैरा, कोच्चि सहित 100 शहरों में कंपनी ने संचालन शुरू कर दिया है। इन सभी शहरों में आज से ओला कैब्स, ओला औटो और ओला बाइक की सर्विस मिलेंगी। हालांकि, कंपनी द्वारा जारी पोस्ट में यह स्पष्ट कर दिया गया है कि वर्तमान में शेयर कैब सेवा बंद रहेंगी। साथ ही आउटस्टैंडिंग यानी एक शहर से दूसरे शहर में जाने के लिए अनुमति नहीं दी जा रही है। इसके अलावा कैब में ड्राइवर के अतिरिक्त सिर्फ एक यात्री को ही बैठने की अनुमति होगी।

उबर में दो से ज्यादा यात्री नहीं बैठेंगे
उबर ने अपनी बेवसाइट पर किए पोस्ट में कहा है कि कंपनी आज से अपनी सेवा शुरू कर रही है। इस दौरान स्वच्छता और सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा जाएगा। कंपनी ने कहा कि एक बार में कैब में एक राइड में ड्राइवर के अलावा दो सवारी ही होगी। यानी एक बार में एक कैब में सिर्फ तीन लोग ही बैठ सकते हैं। ड्राइवर के पास वाले सीट पर सवारी नहीं बैठ सकते हैं। इसके अलावा 65 साल से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर रहने के लिए कहा गया है।

सुरक्षा का विशेष ध्यान होगा, मुखौटा लगाना अनिवार्य है
गाइडलाइन के मुताबिक, ओला और उबर राइड के दौरान सुरक्षा का खास ख्याल रखते हुए। कैब ड्राइवर के पास संकायों और ब्रांडों सैनिटाइजर होने चाहिए। अगर ड्राइवर के चेहरे और सैनिटाइजर नहीं हुआ तो सवारी राइड कैंसिल करने का विकल्प चुन सकता है वहीं राइडर भी बिना वर्क के कैब में नहीं बैठ सकता है। ऐसा होने पर ड्राइवर को राइड कैंसिल का अधिकार दिया गया है।

राइड शुरू करने से पहले ड्राइवर को भेजनी होगी सेल्फी
ड्राइवर-पार्टनर सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं या नहीं। यह सुनिश्चित करने के लिए ड्राइवर को ऐप के माध्यम से एक सेल्फी साझा करनी होगी। राइड शुरू होने से पहले और खत्म होने के बाद तक यात्रियों को फ़ंक्शन पहननेना अनिवार्य कर दिया है। साथ ही राइड के दौरान कैब की एसी बंद रहेगी और खिड़कियां खुली रहेंगी।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *