न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
अपडेटेड सन, 03 मई 2020 12:54 PM IST

ख़बर सुनता है

दिल्ली में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक शीर्ष अधिकारी के निजी सचिव के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सीआरपीएफ की मुश्किलें बढ़ गई हैं। रविवार सुबह सीआरपीएफ मुख्यालय को पूरी तरह सील कर दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यालय में विशेष महानिदेशक (एसडीजी) पद पर काम कर रहे अधिकारी का निजी सचिव कार्यालय पाया गया है और इसलिए फाइसैन्य बल ने बिल्डिंग को सील कर दिया है। उन्होंने बताया कि बिल्डिंग में काम कर रहे अधिकारियों को रविवार से परिसर के भीतर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सीआरपीएफ ने लोधी रोड पर सीजीओ कॉम्प्लेक्स में स्थित बिल्डिंग को समयबद्ध तरीके से सील करने के लिए चिकित्सा दिशा निर्देशों के अनुसार आवश्यक कदम उठाने के लिए जिला निगरानी अधिकारी को सूचित कर दिया है।

उन्होंने बताया कि मुख्यालय की भागीदारी में कर्मचारी के संपर्क में आए सभी कर्मियों की पहचान करने की कवायद शुरू कर दी गई है। सीआरपीएफ देश का सबसे बड़ा फाइसैन्य बल है। मालूम हो कि बटालियन के कई जवान भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। शनिवार को सीआरपीएफ के 68 जवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

सभी युवा मयूर विहार फेज तीन स्थित 31 वीं बटालियन के हैं। इस बटालियन में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 134 हो गई है, जिसमें से एक जवान ठीक हो चुका है और एक की मौत हो गई है। वहीं बीएसएफ के भी 17 युवा कोरोना क्षमता पाए गए हैं। ये युवा 126 वें और 176 वें बटालियन के हैं।

शुक्रवार को भी सीआरपीएफ के 12 जवानों की रिपोर्ट आई थी
सीआरपीएफ बटालियन के 12 जवान शुक्रवार को भी कोरोना पॉजिटिव मिले थे। इससे कुछ दिन पहले 52 जवानों के विकृत पाए जाने और एक जवान की मौत के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया था। ईमानदार जवानों को दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक शीर्ष अधिकारी के निजी सचिव के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद सीआरपीएफ की मुश्किलें बढ़ गई हैं। रविवार सुबह सीआरपीएफ मुख्यालय को पूरी तरह सील कर दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यालय में विशेष महानिदेशक (एसडीजी) पद पर काम कर रहे अधिकारी का निजी सचिव कार्यालय पाया गया है और इसलिए फाइसैन्य बल ने बिल्डिंग को सील कर दिया है। उन्होंने बताया कि बिल्डिंग में काम कर रहे अधिकारियों को रविवार से परिसर के भीतर जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सीआरपीएफ ने लोधी रोड पर सीजीओ कॉम्प्लेक्स में स्थित बिल्डिंग को समयबद्ध तरीके से सील करने के लिए चिकित्सा दिशा निर्देशों के अनुसार आवश्यक कदम उठाने के लिए जिला निगरानी अधिकारी को सूचित कर दिया है।

उन्होंने बताया कि मुख्यालय की भागीदारी में कर्मचारी के संपर्क में आए सभी कर्मियों की पहचान करने की कवायद शुरू कर दी गई है। सीआरपीएफ देश का सबसे बड़ा फाइसैन्य बल है। मालूम हो कि बटालियन के कई जवान भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। शनिवार को सीआरपीएफ के 68 जवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

सभी युवा मयूर विहार फेज तीन स्थित 31 वीं बटालियन के हैं। इस बटालियन में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 134 हो गई है, जिसमें से एक जवान ठीक हो चुका है और एक की मौत हो गई है। वहीं बीएसएफ के भी 17 युवा कोरोना क्षमता पाए गए हैं। ये युवा 126 वें और 176 वें बटालियन के हैं।

शुक्रवार को भी सीआरपीएफ के 12 जवानों की रिपोर्ट आई थी
सीआरपीएफ बटालियन के 12 जवान शुक्रवार को भी कोरोना पॉजिटिव मिले थे। इससे कुछ दिन पहले 52 जवानों के विकृत पाए जाने और एक जवान की मौत के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया था। ईमानदार जवानों को दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *