आज ही के दिन 2001 में वीवीएस लक्ष्मण (281 रन) और राहुल द्रविड़(180 रन) ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में 376 रन की साझेदारी की थी. (BCCI/Twitter).

क्रिकेट के इतिहास में 14 मार्च का दिन हमेशा यादगार रहेगा. 2001 में आज ही के दिन राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता टेस्ट (2001 Kolkata test) में फॉलोऑन खेलते हुए 376 रन की रिकॉर्ड साझेदारी की थी. लक्ष्मण ने 281 और द्रविड़ ने 180 रन बनाए थे. इन दोनों की पारियों की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 171 रन से हराया था.

नई दिल्ली. क्रिकेट के इतिहास में आज का दिन (14 मार्च) खास है. 20 साल पहले कोलकाता के ईडन गार्डन्स(Eden Gardens) में वीवीएस लक्ष्मण(VVS Laxman) और राहुल द्रविड़(Rahul Dravid) ने ऐसी पार्टनरशिप की, जो रिकॉर्ड बुक में हमेशा के लिए दर्ज हो गई. इस एक पार्टनरशिप के दम पर भारत ने न सिर्फ स्टीव वॉ (Steve Waugh)की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम को टेस्ट में हराया था बल्कि उसके लगातार दसवीं सीरीज जीतने के सपने को भी चकनाचूर कर दिया था. इसमें लक्ष्मण और द्रविड़ का रोल सबसे अहम था. तब इन दोनों के बीच 376 रन की साझेदारी हुई थी.

बीसीसीआई ने ट्विटर पर द्रविड़ और लक्ष्मण की एक तस्वीर शेयर कर इस ऐतिहासिक जीत के 20 साल पूरा होने को याद किया. बीसीसीआई ने लिखा आज ही के दिन 2001 में वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता टेस्ट में शानदार वापसी की थी.

2001 के कोलकाता टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव वॉ ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. हरभजन सिंह की हैट्रिक के बावजूद ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में कप्तान स्टीव वॉ के 110, मैथ्यू हेडन के 97 और जस्टिन लैंगर के 58 रन की पारी के बदौलत 445 रन बनाए. जवाब में भारतीय टीम पहली पारी में 171 रन पर ऑल आउट हो गई. वीवीएस लक्ष्मण के 59 रन की पारी को छोड़ दें तो कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर नहीं कर पाया. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने भारत को फॉलोऑन दिया. दूसरी पारी में भारत ने अच्छी शुरुआत की. शिवसुंदर दास और सदागोपन रमेश की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 52 रन जोड़े. इस स्कोर पर रमेश आउट हो गए. इसके बाद तीसरे नंबर पर वीवीएस लक्ष्मण बल्लेबाजी करने आए. उन्होंने एक छोर से रन बनाना शुरू किया. लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरने लगे. सचिन तेंदुलकर 10, सौरव गांगुली 48 और दास 39 रन बनाकर आउट हो गए.

VVS Laxman, Rahul Dravid, 2001 kolkata test, cricket news

बीसीसीआई ने ट्विटर पर राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण की एक तस्वीर शेयर कर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 के कोलकाता टेस्ट में मिली ऐतिहासिक जीत को याद किया है. (BCCI/Twitter)

लक्ष्मण-द्रविड़ के बीच 376 रन की साझेदारी हुई
एक वक्त भारत ने 4 विकेट के नुकसान पर 232 रन बना लिए थे. तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद भारत का स्कोर 254/4 था और ऑस्ट्रेलिया से अभी भी भारत 20 रन पीछे था. लक्ष्मण 109 रन बनाकर अभी भी क्रीज पर जमे थे और दूसरे छोर पर द्रविड़ भी नाबाद थे. चौथे दिन जो हुआ उसकी कल्पना किसी ने भी नहीं की थी. पूरे दिन में भारत का एक विकेट भी नहीं गिरा और भारत ने 550 से ज्यादा रन बना लिए. शेन वॉर्न, ग्लेन मैक्ग्रा, जेसन गिलेस्पी और माइकल कास्परोविच जैसे गेंदबाज विकेट के लिए तरस गए. लक्ष्मण एक-एक कर रन जोड़ते गए और पांचवें विकेट के लिए उनके और द्रविड़ के बीच 350 से ज्यादा रन की साझेदारी हो चुकी थी. मैच के पांचवें और आखिरी दिन लक्ष्मण 281 रन और द्रविड़ 180 रन बनाकर आउट हुए. इन दोनों के बीच 376 रन की रिकॉर्ड पार्टनरशिप हुई. भारत ने 657/7 के स्कोर पर पारी घोषित कर दी.

यह भी पढ़ें:
IND VS ENG: वनडे सीरीज के लिए आज हो सकता है भारतीय टीम का ऐलान, विराट-रोहित ने नहीं मांगा आराम

बड़ी खबर: आईपीएल 2022 में खेलेंगी 10 टीमें, मई में होगी नीलामी

आखिरी दिन ऑस्ट्रेलिया 212 पर ऑलआउट हुआ
ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 384 रन का टारगेट मिला. आखिरी दिन होने की वजह से मैच के ड्रॉ होने की पूरी संभावना लग रही थी. लेकिन किसे पता था कि आज इतिहास रचा जाएगा. एक-एक कर कंगारू बल्लेबाज हरभजन सिंह की फिरकी में उलझते गए और पूरी टीम 68.3 ओवर में 212 रन पर आउट हो गई. फॉलोऑन खेलने के बावजूद भारत ये टेस्ट 171 रन से जीत गया. पहली पारी में हैट्रिक लेने वाले हरभजन ने दूसरी पारी में कुल 6 विकेट लिए. इस टेस्ट को जीतने के साथ ही भारत ने तीन टेस्ट की सीरीज में 1-1 से बराबर की और फिर तीसरा मुकाबला जीतकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली.




.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *