• बीसीसीआई योजना बना रही है कि दिन में टेस्ट मैच होंगे और फ्लड लाइट में टी -20 कराए जाएंगे
  • भारतीय टीम को नवंबर-दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलनी है

दैनिक भास्कर

10 मई, 2020, 07:52 AM IST

कोरोनावायरस के कारण क्रिकेट अभी पूरी तरह से ठप है। टी -20 लीग आईपीएल को भी अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है। ऐसे में बोर्ड कम समय में ज्यादा मैच खेलकर नुकसान की भरपाई का प्लान बना रहा है। इसका कहना है कि टेस्ट और टी -20 सीरीज के लिए दो अलग-अलग टीमें बनाई जाएगी। दोनों एक साथ श्रृंखला प्लेगी। ऐसे में कम समय में अधिक से अधिक मैच खेले जा सकते हैं।

बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा, नहीं कोई नहीं जानता है कि खेल कब शुरू होगा। स्पोंर्स से लेकर फैंस की बात करें तो हम सभी को ध्यान में रखना है। ऐसे में एक विकल्प यह है कि हम दो सुझाव बनाएं। जो-साथ टेस्ट सीरीज और टी -20 सीरीज खेल चाहिए। ‘

कारकास्टर के सिद्धांतों को ध्यान में रखना होगा
बीसीसीआई को इंजनकस्टर के हितों को ध्यान में रखना है तो उसे दो टेंमेंट बनानी होंगी। दिन में टेस्ट मैच होगा और फ्लड लाइट में टी -20 मैच का आयोजन किया जाएगा। लेकिन दो टीम बनाने से पहले कोचिंग स्टाफ को भी काम करना होगा। क्योंकि एक कोचिंग स्टाफ दो जगह काम नहीं कर सकेगा। इसकी पहली ऑस्ट्रेलियाई टीम ऐसा कर चुकी है। 2017 में 22 फरवरी को एडिलेड में श्रीलंका से टी -20 मैच खेलने के बाद टीम ने 23 फरवरी को पुणे में टेस्ट मैच की शुरुआत की थी। इसके लिए दो अलग-अलग टीम बनाई गई थीं। कुछ ऐसा ही उपाय टीम इंडिया भी कर सकती है।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर क्वारेंटाइन भारतीय खिलाड़ी रहेंगे
टीम इंडिया को नवंबर-दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है। जहां टीम को चार टेस्ट खेलने हैं। श्रृंखला में एक टेस्ट को और जोड़ने को लेकर बातचीत जारी है। बीसीसीआई ने खिलाड़ियों के लिए दो सप्ताह तक क्वारेंटाइन रखने पर सहमति दे दी है। ऐसे में सभी बोर्ड बोर्ड को कम करने के लिए कम दिनों में अधिक से अधिक मैच खेलने की तैयारी कर रहे हैं। यदि आईपीएल नहीं होता है तो बोर्ड को 4 हजार करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है।

शेफ सिलेक्टर बोले- टी -20 से सीजन की शुरुआत हो
टीम इंडिया के चीफ सिलेक्टर सुनील जोशी ने बीसीसीआई को नए सीजन की शुरुआत टी -20 से करने का सुझाव दिया है। पिछले दिनों राष्ट्रीय सिलेक्शन कमेटी की वीडियो कॉन्फ्रेंस से हुई बैठक में ऐसा प्रस्ताव दिया गया था। अगर बोर्ड इस पर सहमति होती है तो अगस्त में शुरू होने वाले सीजन का आगाज सैयद मुश्ताक अली टी -20 टूर्नामेंट से हो सकता है। सिलेक्शन कमेटी के मुताबिक, इससे खिलाड़ी टी -20 विश्व कप के लिए तैयार हो जाएंगे। विश्व कप के मुकाबले ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले हैं। ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी घरेलू क्रिकेट को प्राथमिकता नहीं देते हैं। लेकिन मौजूदा हालात में उन्हें टूर्नामेंट से प्रैक्टिस करने का मौका मिलेगा।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed