पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति के तहत चार भारतीयों को सूचीबद्ध कराने के पाकिस्तान के कदम को अवरूद्ध कर दिया। इस पर भारत ने कहा कि आतंकवाद को लेकर संयुक्त राष्ट्र की प्रक्रिया का राजनीतिकरण करने की इस्लामाबाद की कोशिश नाकाम हो गई।

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र की 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति के तहत प्रतिबंधित सूची में शामिल करने के लिए अंगारा अप्पाजी, गोबिंद पटनायक, अजय मिस्री और वेणुमाधव डोंगारा का नाम दिया था।

बहरहाल, परिषद में अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और बेल्जियम ने इस कदम को अवरूद्ध कर दिया जिससे पाकिस्तान की यह कोशिश नाकाम हो गई।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत टी एस तिरूमूर्ति ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘आतंकवाद पर 1267 विशेष प्रक्रिया को धार्मिक रंग देकर इसका राजनीतिकरण करने की पाकिस्तान की कोशिश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में नाकाम हो गई। हम परिषद के उन सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने पाकिस्तान के इस प्रयास को अवरूद्ध किया है।”

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति के तहत चार भारतीयों को सूचीबद्ध कराने के पाकिस्तान के कदम को अवरूद्ध कर दिया। इस पर भारत ने कहा कि आतंकवाद को लेकर संयुक्त राष्ट्र की प्रक्रिया का राजनीतिकरण करने की इस्लामाबाद की कोशिश नाकाम हो गई।

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र की 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति के तहत प्रतिबंधित सूची में शामिल करने के लिए अंगारा अप्पाजी, गोबिंद पटनायक, अजय मिस्री और वेणुमाधव डोंगारा का नाम दिया था।

बहरहाल, परिषद में अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और बेल्जियम ने इस कदम को अवरूद्ध कर दिया जिससे पाकिस्तान की यह कोशिश नाकाम हो गई।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत टी एस तिरूमूर्ति ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘आतंकवाद पर 1267 विशेष प्रक्रिया को धार्मिक रंग देकर इसका राजनीतिकरण करने की पाकिस्तान की कोशिश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में नाकाम हो गई। हम परिषद के उन सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने पाकिस्तान के इस प्रयास को अवरूद्ध किया है।”

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *