ख़बर सुनता है

विश्व परिवार दिवस (15 मई) को विशेष बनाने की पुरस्कार इस बार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने की है। इस दिन आरएसएस सामूहिक परिवार सहभोज का आयोजन करने जा रहा है। इस पुरस्कार में ब्रज प्रांत के 8 लाख से अधिक परिवार एक साथ भोजन करेंगे। इतना ही नहीं, इस खास दिन पर भारतीय संस्कृति और हिंदू मान्यताओं के अनुसार कर्म भी किए जाएंगे जो सूर्य नमस्कार से शुरू होकर ईश वंदना तक शामिल हैं।

लॉकडाउन के कारण सभी लोग अपने घरों में ही हैं। इस कार्यक्रम को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए संघ और उसके विचार पर चलने वाले संगठन ऑनलाइन बैठक द्वारा बोले, कॉलेज और कॉलेज तक के कार्यकर्ताओं को भागीदारी बना रहे हैं। ब्रज प्रांत में इस कार्यक्रम से लगभग आठ लाख परिवारों को जोड़ने की योजना पर काम हो रहा है।

ये भी पढ़ें: मथुरा: ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त में दिनदहाड़े 21 लाख की लूट से मचा हड़कंप

ये जिले शामिल हैं
इसमें मथुरा के साथ आगरा, फिरोजाबाद, अलीगढ़, हाथरस, एटा, मैनपुरी, कासगंज, बदायूं, बरेली, पीलीभीत और शाहजहांपुर शामिल हैं।

क्या-क्या करना है

सूर्योदय से पूर्व उठकर धरती माता को प्रणाम करते हुए प्रात: स्मरण करें। तत्पश्चात अपने घर, गली-मोहल्ले की सफाई करें। दिन में छत पर पक्षियों के लिए दाना और पानी रखें। गाय, कुत्ते और बंदरों को रोटी और अन्य खाद्य सामग्री आदि देते हुए चीटियों को भी आटा डालें।

भूख से पीड़ित व्यक्ति को भोजन करने वाले। पर्यावरण की दृष्टि से घर में रखे गमले, पौधे आदि को व्यवस्थित करें। शाम को परिवार के साथ बैठकर भारतीय संस्कृति, सामाजिक समरसता, सम्मिलित परिवार और स्वदेशी व राष्ट्रीय विषयों की चर्चा करें। तत्पश्चात रात्रि 8:00 बजे से भोजन मंत्र करते हुए परिवार के सभी छोटे-बड़े महिला-पुरुष सदस्य एक साथ बैठकर भोजन करें और फिर रात्रि को सोने से पूर्व ईश वंदना करें।

मथुरा को 50 हजार का लक्ष्य
भारतीय संस्कृति की दिशा देने के लिए 15 मई को आयोजित हो रहे सहभोज को लेकर संघ के सभी संगठनों के बैठक सोमवार को आयोजित की गई। इसमें संघ के विभाग प्रचारक गोविंद ने कहा कि संघ का कार्य समाज का संगठन करना है।

संघ के मथुरा महानगर सह कार्यवाह विजय बंटा सर्राफ ने बताया कि लॉकडाउन के समय का सदुपयोग करते हुए परिवारों को एक दिशा देने के लिए संघ ने जो अभियान चलाया है। इसके तहत मथुरा में 50 हजार लोगों को जोड़ने का लक्ष्य स्वयंसेवकों को दिया गया है।

सार

मथुरा में 50 हजार लोगों को जोड़ने का लक्ष्य
भारतीय संस्कृति के अनुसार कर्म भी किए जाएंगे

विस्तार

विश्व परिवार दिवस (15 मई) को विशेष बनाने की पुरस्कार इस बार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने की है। इस दिन आरएसएस सामूहिक परिवार सहभोज का आयोजन करने जा रहा है। इस पुरस्कार में ब्रज प्रांत के 8 लाख से अधिक परिवार एक साथ भोजन करेंगे। इतना ही नहीं, इस खास दिन पर भारतीय संस्कृति और हिंदू मान्यताओं के अनुसार कर्म भी किए जाएंगे जो सूर्य नमस्कार से शुरू होकर ईश वंदना तक शामिल हैं।

लॉकडाउन के कारण सभी लोग अपने घरों में ही हैं। इस कार्यक्रम को आम लोगों तक पहुंचाने के लिए संघ और उसके विचार पर चलने वाले संगठन ऑनलाइन बैठक द्वारा बोले, कॉलेज और कॉलेज तक के कार्यकर्ताओं को भागीदारी बना रहे हैं। ब्रज प्रांत में इस कार्यक्रम से लगभग आठ लाख परिवारों को जोड़ने की योजना पर काम हो रहा है।

ये भी पढ़ें: मथुरा: ग्रामीण बैंक ऑफ आर्यावर्त में दिनदहाड़े 21 लाख की लूट से मचा हड़कंप

ये जिले शामिल हैं

इसमें मथुरा के साथ आगरा, फिरोजाबाद, अलीगढ़, हाथरस, एटा, मैनपुरी, कासगंज, बदायूं, बरेली, पीलीभीत और शाहजहांपुर शामिल हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *