रिपोर्टर डेस्क, अमर उजाला, विशाखापट्टनम
अपडेटेड शुक्र, 08 मई 2020 12:56 AM IST

ख़बर सुनता है

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम स्थित एक रसायन फैक्टरी में देर रात एक बार फिर से गैस का पैकेज शुरू हो गया है। हालांकि मौके पर दमकल की दस गाड़ियां और एम्बुलेंस मौजूद है और साथ ही राष्ट्रीय आपदा विकलांगता बल (एनडीआरएफ) की टीम भी सतर्क है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक गैस का ताप उसी जगह से शुरू हुआ जहां से सुबह स्टाइरीन लीक हुआ था। हालांकि जिले के अग्निशमन अधिकारी संदीप आनंद के मुताबिक एनडीआरएफ के सहयोग से लगभग 50 फायर कर्मचारी ऑपरेशन को अंजाम होने वाले हैं। हमने 2-3 किमी के दायरे में गाँवों को सुरक्षित ओर सावधानियों के लिए खाली करने का आदेश दिया है। साथ ही 2 फोम टेंडर सहित 10 और फायर टेंडर भी मौके पर मौजूद हैं। एम्बुलेंस किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं।

बता दें कि इससे पहले बृहस्पतिवार की सुबह विशाखापट्टनम में रासायनिक पॉलिमर उद्योग में रासायनिक गैस रिसाव हो गया है। आरआर वेंकटपुरम गांव में हुई इस घटना में 11 लोगों की मौत हो गई जबकि 800 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं।

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम स्थित एक रसायन फैक्टरी में देर रात एक बार फिर से गैस का पैकेज शुरू हो गया है। हालांकि मौके पर दमकल की दस गाड़ियां और एम्बुलेंस मौजूद है और साथ ही राष्ट्रीय आपदा विकलांगता बल (एनडीआरएफ) की टीम भी सतर्क है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक गैस का ताप उसी जगह से शुरू हुआ जहां से सुबह स्टाइरीन लीक हुआ था। हालांकि जिले के अग्निशमन अधिकारी संदीप आनंद के मुताबिक एनडीआरएफ के सहयोग से लगभग 50 फायर कर्मचारी ऑपरेशन को अंजाम होने वाले हैं। हमने 2-3 किमी के दायरे में गाँवों को सुरक्षित ओर सावधानियों के लिए खाली करने का आदेश दिया है। साथ ही 2 फोम टेंडर सहित 10 और फायर टेंडर भी मौके पर मौजूद हैं। एम्बुलेंस किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं।

बता दें कि इससे पहले बृहस्पतिवार की सुबह विशाखापट्टनम में रासायनिक पॉलिमर उद्योग में रासायनिक गैस रिसाव हो गया है। आरआर वेंकटपुरम गांव में हुई इस घटना में 11 लोगों की मौत हो गई जबकि 800 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed