रिपोर्टर डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
अपडेटेड थू, 07 मई 2020 09:20 PM IST

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनता है

कोरोनावायरस को लेकर हुए लॉकडाउन के बीच गुरुवार को उत्तराखंड काउंटर की बैठक संपन्न हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। सरकार ने जहां एक ओर शराब के दामों में वृद्धि की है, वहीं पेट्रोल और डीजल के दाम भी बढ़ा दिए हैं।

सरकार के फैसले के बाद आबकारी विभाग ने शराब मूल्य वृद्धि का निर्णय लिया है। ऐसी विदेशी शराब जो भारत मे बनती है वह 20 रुपये से 200 रुपये तक गंध होगी। ओवरसीज विदेशी मदिरा 475 रुपये प्रति बोतल रहेगी। देशी जोड़ों में 20 रुपये की वृद्धि हुई है। सरकार को इससे कुल 250 करोड़ रुपये के राजस्व का लाभ होगा। वहीं, पेट्रोल की कीमत 74.55 रुपये और डीजल 64.17 रुपये कर दी गई है।

  • उत्तराखंड में पेट्रोल एक रुपये और डीजल के दाम दो रुपये प्रति लीटर बढ़ाने का फैसला लिया गया।
  • शराब के दामों में तीन गुना में वृद्धि की गई है जो 20 रुपये से लेकर 425 रुपये के बीच है।
  • उत्तराखंड वापसी वाले प्रवासियों के लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना शुरू होगी।
  • हरिद्वार में अस्थि विसर्जन पर शुरू रोक हटा दी गई है।
  • ऋण को लाभ मिलेगा।
कोरोनावायरस को लेकर हुए लॉकडाउन के बीच गुरुवार को उत्तराखंड काउंटर की बैठक संपन्न हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। सरकार ने जहां एक ओर शराब के दामों में वृद्धि की है, वहीं पेट्रोल और डीजल के दाम भी बढ़ा दिए हैं।

सरकार के फैसले के बाद आबकारी विभाग ने शराब मूल्य वृद्धि का निर्णय लिया है। ऐसी विदेशी शराब जो भारत मे बनती है वह 20 रुपये से 200 रुपये तक गंध होगी। ओवरसीज विदेशी मदिरा 475 रुपये प्रति बोतल रहेगी। देशी जोड़ों में 20 रुपये की वृद्धि हुई है। सरकार को इससे कुल 250 करोड़ रुपये के राजस्व का लाभ होगा। वहीं, पेट्रोल की कीमत 74.55 रुपये और डीजल 64.17 रुपये कर दी गई है।


आगे पढ़ें

काउंटर के प्रमुख निर्णय





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *