ख़बर सुनता है

तोप में कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान तय कीमत से अधिक कीमत पर सामान बेचने के आरोप में एक लोकप्रिय भारतीय-अमेरिकी महिला स्टोर के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

एक जांच अधिकारी ने बताया कि क्रासन के प्लीजैंटन में लोकप्रिय स्टोर ’अपना बाजार’ के मालिक राजविंदर सिंह ने चार मार्च को गवर्नर द्वारा लिखित काल की घोषणा किए जाने के बाद चीनी वस्तुओं की दुकानों के कथित रूप से बढ़ा दी थी।

रॉबर्ट के अटॉर्नी जनरल जेवियर बेकेरा और अलमेडा काउंटी डिस्ट्रिक्ट की अटॉर्नी नैंसी ओ ‘मैल्ली के संयुक्त बयान में बताया गया है कि ग्राहकों की रसीदों से मिले सबूतों के आधार पर जांच में इस बात की पुष्टि हुई कि कई खाद्य पदार्थों की कीमत में समय की कीमत है। दी गई 10 प्रतिशत वृद्धि की मंजूरी से बहुत अधिक कीमत वसूली गई। कुछ वस्तुओं को तो 200 प्रतिशत तक अधिक कीमत में बेची गई।

बेकेरा ने कहा, ‘हम तय कीमत से अधिक कीमत पर सामान बेचने को बहुत शुद्धता से लेते हैं और जन स्वास्थ्य की स्थिति के दौरान कानून तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रतिबद्ध हैं।’

सिंह के खिलाफ यदि आरोप सही पाए जाते हैं तो उसे अधिकतम एक साल की कैद की सजा दी जा सकती है या 10,000 डॉलर तक का दर्द हो सकता है।

तोप में कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान तय कीमत से अधिक कीमत पर सामान बेचने के आरोप में एक लोकप्रिय भारतीय-अमेरिकी महिला स्टोर के मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

एक जांच अधिकारी ने बताया कि क्रासन के प्लीजैंटन में लोकप्रिय स्टोर ’अपना बाजार’ के मालिक राजविंदर सिंह ने चार मार्च को गवर्नर द्वारा लिखित काल की घोषणा किए जाने के बाद चीनी वस्तुओं की दुकानों के कथित रूप से बढ़ा दी थी।

रॉबर्ट के अटॉर्नी जनरल जेवियर बेकेरा और अलमेडा काउंटी डिस्ट्रिक्ट की अटॉर्नी नैंसी ओ ‘मैल्ली के संयुक्त बयान में बताया गया है कि ग्राहकों की रसीदों से मिले सबूतों के आधार पर जांच में इस बात की पुष्टि हुई कि कई खाद्य पदार्थों की कीमत में समय की कीमत है। दी गई 10 प्रतिशत वृद्धि की मंजूरी से बहुत अधिक कीमत वसूली गई। कुछ वस्तुओं को तो 200 प्रतिशत तक अधिक कीमत में बेची गई।

बेकेरा ने कहा, ‘हम तय कीमत से अधिक कीमत पर सामान बेचने को बहुत शुद्धता से लेते हैं और जन स्वास्थ्य की स्थिति के दौरान कानून तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रतिबद्ध हैं।’

सिंह के खिलाफ यदि आरोप सही पाए जाते हैं तो उसे अधिकतम एक साल की कैद की सजा दी जा सकती है या 10,000 डॉलर तक का दर्द हो सकता है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *