हरभजन सिंह ने कहा कि लार पर बैन लगने के बाद गेंदबाजों को पाटा विकेट नहीं मिलना चाहिए। (फाइल फोटो)

हरभजन सिंह (हरभजन सिंह) ने कहा कि अगर गेंद पर लार का प्रदर्शन बैन होता है तो तस्वीर से गेंदबाजों को मदद मिलनी चाहिए।

नई दिलवाली कोरोनावायरस (कोरोनावायरस) के कारण जान में क्रिकेट नहीं खेला जा रहा है। क्रिकेटर्स घर में कैद हैं। इस महामारी ने कई मुद्राओं को स्थापित करने वाला करवा दिया है और अब क्रिकेट में एक बड़ा बदलाव भी इसकी वजह से होता है। बुकिंग में लाखों लोग देयताएं हैं और आने वाले कुछ समय में हालात पहले के जैसे सामान्‍य होते नहीं दिख रहे हैं। कोविद- 19 (कोविद -19) के बाद लोगों की जिंदगी भी बदल जाएगी। अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। ऐसे में बल पर लार पर बैन की मांग भी की जा रही है। जिससे किसी तरह की बीमारी के फैलने के खतरे को रोका जा सके। वास्तव में गेंदबाज गेंद को चमकाने के लिए उस पर लार या पसीने का स्वाद करते हैं। मगर लार पर बैन लगने के बाद गेंदबाजों को ही सबसे जियादा दिक्कट आगी।

ऐसे में क्रिकेट जगत दो हिल्स में बंट गया हैं। एक इसके बैन के समर्थन में है और दूसरा नहीं। हालांकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया) ने गेंद पर लार और पसीने का खेल करना बैन कर दिया है। अगर आईसीसी भी ऐसा करती है तो फिर पहलवानों का करती होगी। यह सवाल इस समय क्रिकेट जगत में हर किसी के पास है। इस सवाल पर अपनी राय रखते हुए भारत के दिग्‍गज स्पिनर हरभजन सिंह (हरभजन सिंह) ने कहा कि अगर आईसीसी भी इस पर बैन लगा देती है तो यह गेंदबाजों के लिए काफी मुश्किल हो जाएगा।

गेंदबाजों के हिसाब से तस्वीर हो
हिंयनाडुसाटन तिर्मस सिंह बातचीत में हरभजन सिंह ने कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए पिकनों को बनाया जाना चाहिए, ताकि एक सैनिक को मदद मिल सके। उन्होंने कहा कि यदि उनकी गेंदबाजी में सुधार लाने के लिए गेंदबाज गेंदबाज को शाइन नहीं कर सकते तो उन्हें कम से कम पाटा विकेट नहीं देना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता तो गेंदबाज एक गेंदबाजी मशीन बनकर रह जाते और क्रिकेट सिर्फ बल्लीबाजों का मैच बन जाता। विप्लव (आईपीएल) के आयोजन और विदेशी पीलीलेर्स के आने पर हरभजन ने कहा कि कई देशों में यात्रा पर पाबंदी है। उन्हें यह नहीं लगता कि आने वाले समय में खिलाड़ी यात्रा करेंगे। आईपीएल के आयोजन पर हरभजन ने कहा कि वे नहीं जानते हैं कि सरकार और बीसीसीआई आईपीएल के फैसले पर फैसला करेगी। उन्होंने कहा कि अगर 13 साल में पहली बार आईपीएल नहीं होता है तो वह भी ठीक है। इस कठिन परिस्थिति में हर क्रिकेट के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है। जीवन पहले है क्रिकेट इंतजार कर सकता है।

सचिनंदुलकर से काफी अलग हैं विराट कोहली, इस शोतार खिलाड़ी ने गिनाया अंतर से

अपने ही कुछ खिलाड़ियों से ‘डरा’ नोआसटन बोर्ड, उठाने जा रहा है बड़ा कदम!

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर । फोल्ट्स। देखिए क्रिकेट से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 5 मई, 2020, 10:20 AM IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। केवल 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed