न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
अपडेटेड शुक्र, 08 मई 2020 11:51 AM IST

ख़बर सुनता है

देश में जारी कोरोना संकट के बीच राहुल गांधी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मीडिया से बात की। उन्होंने कोरोना के लगातार बढ़ते हालात और लॉकडाउन की वजह से आ रही मुश्किलों पर बात की। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को लॉकडाउन खोलने की नीति जनता को बतानी चाहिए। न्याय योजना की तर्ज पर मजदूरों के खाने में सीधे पैसे जमा करने चाहिए।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने सरकार को कुछ सुझाव देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि छोटे कारोबारियों के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जाए। लॉकडाउन खोलने की तैयारी की जाए। कांग्रेस नेता ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार मिलकर रणनीति बनाएं। उन्होंने कहा कि अब सरकार को जनता को दिखाना चाहिए कि आखिर लॉकडाउन कब खुलेगा।

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि क्या हो रहा है। सार्वजनिक को चुनना चाहिए कि किस परिस्थिति में लॉकडाउन को खोला जाएगा। ये महामारी काफी खतरनाक हो गई है, लॉकडाउन के दौरान काफी कुछ बदल गया है। आप किसी भी व्यवसाय से पूछेंगे तो पता चलेगा कि सप्लाई चेन को लेकर दिक्कते आ रहे हैं। प्रवासी मजदूर, गरीब, छोटे कारोबारियों को आज पैसे की जरूरत है, वर्ना नौकरी जाने की सुनामी आ जाएगी।

देश में जारी कोरोना संकट के बीच राहुल गांधी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मीडिया से बात की। उन्होंने कोरोना के लगातार बढ़ते हालात और लॉकडाउन की वजह से आ रही मुश्किलों पर बात की। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को लॉकडाउन खोलने की नीति जनता को बतानी चाहिए। न्याय योजना की तर्ज पर मजदूरों के खाने में सीधे पैसे जमा करने चाहिए।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने सरकार को कुछ सुझाव देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि छोटे कारोबारियों के लिए राहत पैकेज की घोषणा की जाए। लॉकडाउन खोलने की तैयारी की जाए। कांग्रेस नेता ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार मिलकर रणनीति बनाएं। उन्होंने कहा कि अब सरकार को जनता को दिखाना चाहिए कि आखिर लॉकडाउन कब खुलेगा।

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि क्या हो रहा है। सार्वजनिक को चुनना चाहिए कि किस परिस्थिति में लॉकडाउन को खोला जाएगा। ये महामारी काफी खतरनाक हो गई है, लॉकडाउन के दौरान काफी कुछ बदल गया है। आप किसी भी व्यवसाय से पूछेंगे तो पता चलेगा कि सप्लाई चेन को लेकर दिक्कते आ रहे हैं। प्रवासी मजदूर, गरीब, छोटे कारोबारियों को आज पैसे की जरूरत है, वर्ना नौकरी जाने की सुनामी आ जाएगी।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *