रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)
– फोटो: एएनआई

ख़बर सुनता है

सेना में सुधारों के लिए गठित शेतककर समिति की सिफारिश पर मुहर लगाते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को सैन्य सेवा के 9304 पदों को खत्म कर दिया। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, लेफ्टिनेंट जनरल शेतककर के नेतृत्व वाली समिति ने सशस्त्र बलों की लड़ाकू क्षमता बढ़ाने और रक्षा व्यय को नियंत्रित करने के लिए यह सिफारिश की थी। रक्षा मंत्री ने इसके आधार पर सेना में सामान्य और औद्योगिक क्षेत्र के खाली पड़े 13157 पदों में सैन्य नौकरियों के 9304 पदों को खत्म करने की अनुमति दे दी है।

मंत्रालय ने कहा, इस अनुशंसा का उद्देश्य उद्देश्य कंप्यूटर सेवा को प्रभावी कार्यबल बनाना है, जो मौजूदा परिदृश्य में जटिल मुद्दों को अनुकूल और लागत प्रभावी तरीकों को सक्षम बनाता है। समिति ने सैन्य कंप्यूटर सेवा के कार्यबल का इस तरह पुनर्गठन करने की सिफारिश की थी, जिससे केवी सेवा का आंशिक कार्य विभाग के नियोजित कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा और अन्य काम को नियंत्रित किया जाएगा।

सेना में सुधारों के लिए गठित शेतककर समिति की सिफारिश पर मुहर लगाते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को सैन्य सेवा के 9304 पदों को खत्म कर दिया। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, लेफ्टिनेंट जनरल शेतककर के नेतृत्व वाली समिति ने सशस्त्र बलों की लड़ाकू क्षमता बढ़ाने और रक्षा व्यय को नियंत्रित करने के लिए यह सिफारिश की थी। रक्षा मंत्री ने इसके आधार पर सेना में सामान्य और औद्योगिक क्षेत्र के खाली पड़े 13157 पदों में सैन्य नौकरियों के 9304 पदों को खत्म करने की अनुमति दे दी है।

मंत्रालय ने कहा, इस अनुशंसा का उद्देश्य उद्देश्य कंप्यूटर सेवा को प्रभावी कार्यबल बनाना है, जो मौजूदा परिदृश्य में जटिल मुद्दों को अनुकूल और लागत प्रभावी तरीकों को सक्षम बनाता है। समिति ने सैन्य कंप्यूटर सेवा के कार्यबल का इस तरह पुनर्गठन करने की सिफारिश की थी, जिससे केवी सेवा का आंशिक कार्य विभाग के नियोजित कर्मचारियों द्वारा किया जाएगा और अन्य काम को नियंत्रित किया जाएगा।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *