भारतीय रेल (फाइल फोटो)
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनता है

रविवार की रात रेलवे ने लॉकडाउन के कारण अन्य शहरों में फंसे लोगों के लिए राहत भरी खबर दी। 22 मार्च से बंद ट्रेनों को रेलवे 12 मई से आंशिक रूप से बहाल करने जा रहा है। विशेष सुविधा के तहत 30 राजधानी ट्रेन (15 जोड़ी) चलेंगी और ये नई दिल्ली से देश के 15 शहरों को जोड़ेंगी।

ट्रेन परिचालन को लेकर रेलवे ने कई दिशानिर्देश जारी किए हैं, लेकिन एक बड़ा सवाल अब भी यात्रियों के दिमाग पर जोर डाल रहा है, जिसका जवाब आज गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त अध्यक्ष कांफ्रेंस में भी नहीं मिल गया।

सरकार ने ट्रेन चलाने का एलान तो कर दिया, लेकिन यह अभी तक नहीं बताया गया है कि ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्री रेलवे स्टेशन तक कैसे पहुंचेंगे। क्योंकि ज्यादातर राज्यों की राजधानियों में टैक्सी-रिक्शा सेवा अभी तक नहीं हुई हैं। वहीं, ट्रेनों के मंगलवार से चलनी शुरू हो जाएगी। अभी सिर्फ इतना बताया गया है कि यात्री को एक घंटे पहले स्टेशन पहुंचना होगा और स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।

अधिकारियों के पास भी जवाब नहीं

इससे जुड़ा सवाल सोमवार की शाम गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जब अधिकारियों से पूछा गया, तो उन्होंने भी इसपर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। यात्रियों के बीच वर्तमान में बड़ा सवाल है कि कंफर्म टिकट तो मिल जाएगा, लेकिन वे ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशन कैसे पहुंचेंगे। कर्फ्यू पास को लेकर गृह मंत्रालय ने जवाब दिया कि कन्फर्म टिकट ही कर्फ्यू पास के तौर पर मान्य होगा। लेकिन जब उनसे पूछा गया कि लोग स्टेशन तक पहुंचेंगे, तो इसका कोई स्पष्ट जवाब नहीं है।

गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलील श्रीवास्तव ने इस संबंध में कहा कि हमारी ओर से लाल से लेकर ग्रीन जोन तक दिशानिर्देश जारी पहले ही किए जा चुके हैं। इसका कहना है कि निकले छूट मिलेगी और मिलेगी, यह पूरी तरह स्पष्ट है। यह कहता है कि केवल लोग अपनी व्यवस्था कर सकते हैं।

अगर किसी के पास निजी कार भी है तो उससे स्टेशन जाने के लिए जिला मजिस्ट्रेट या पुलिस प्रशासन से विशेष अनुमति लेनी होगी। जो वर्तमान में इतना आसान नहीं है। यदि किसी को अपने वाहन से स्टेशन जाने की अनुमति मिल भी जाती है, तो वह स्टेशन पर अपनी गाड़ी कहां पार्क करेगा। सरकार ने अभी तक इस मामले पर कोई भी निर्देश जारी नहीं किए हैं, ऐसे में यात्रियों के लिए यह बड़ी समस्या बन रही है।

बढ़ा दिया गया टिकट बुकिंग का समय

11 मई 2020 को शाम चार बजे भारतीय रेलवे केटरिंग और टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीकॉम) की वेबसाइट और रेल कनेक्ट एप्स से टिकटों की बुकिंग होगी, लेकिन अब बुकिंग समय बदल गया है। अब टिकटों की बुकिंग आज यानी 11 मई को शाम छह बजे से शुरू होगी। बुकिंग समय में बदलाव की जानकारी IRCTC की वेबसाइट और रेल कनेक्ट एप्स पर दी जा रही है। पहले यह बुकिंग शाम चार बजे से शुरू होनी थी।

मास्क के बिना प्रवेश नहीं

फेस मास्क पहने बगैर प्लेटफार्म पर यात्रियों को प्रवेश नहीं मिलेगा। थर्मल बैनर्स से चेकिंग के बाद ही यात्रा की इजाजत दी जाएगी। किसी भी तरह का लक्षण पाया जाने पर यात्रा नहीं करेंगे।

रविवार की रात रेलवे ने लॉकडाउन के कारण अन्य शहरों में फंसे लोगों के लिए राहत भरी खबर दी। 22 मार्च से बंद ट्रेनों को रेलवे 12 मई से आंशिक रूप से बहाल करने जा रहा है। विशेष सुविधा के तहत 30 राजधानी ट्रेन (15 जोड़ी) चलेंगी और ये नई दिल्ली से देश के 15 शहरों को जोड़ेंगी।

ट्रेन परिचालन को लेकर रेलवे ने कई दिशानिर्देश जारी किए हैं, लेकिन एक बड़ा सवाल अब भी यात्रियों के दिमाग पर जोर डाल रहा है, जिसका जवाब आज गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त अध्यक्ष कांफ्रेंस में भी नहीं मिल गया।

सरकार ने ट्रेन चलाने का एलान तो कर दिया, लेकिन यह अभी तक नहीं बताया गया है कि ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्री रेलवे स्टेशन तक कैसे पहुंचेंगे। क्योंकि ज्यादातर राज्यों की राजधानियों में टैक्सी-रिक्शा सेवा अभी तक नहीं हुई हैं। वहीं, ट्रेनों के मंगलवार से चलनी शुरू हो जाएगी। अभी सिर्फ इतना बताया गया है कि यात्री को एक घंटे पहले स्टेशन पहुंचना होगा और स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।

अधिकारियों के पास भी जवाब नहीं

इससे जुड़ा सवाल सोमवार की शाम गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में जब अधिकारियों से पूछा गया, तो उन्होंने भी इसपर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया। यात्रियों के बीच वर्तमान में बड़ा सवाल है कि कंफर्म टिकट तो मिल जाएगा, लेकिन वे ट्रेन पकड़ने के लिए स्टेशन कैसे पहुंचेंगे। कर्फ्यू पास को लेकर गृह मंत्रालय ने जवाब दिया कि कन्फर्म टिकट ही कर्फ्यू पास के तौर पर मान्य होगा। लेकिन जब उनसे पूछा गया कि लोग स्टेशन तक पहुंचेंगे, तो इसका कोई स्पष्ट जवाब नहीं है।

गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलील श्रीवास्तव ने इस संबंध में कहा कि हमारी ओर से लाल से लेकर ग्रीन जोन तक दिशानिर्देश जारी पहले ही किए जा चुके हैं। इसका कहना है कि निकले छूट मिलेगी और मिलेगी, यह पूरी तरह स्पष्ट है। यह कहता है कि केवल लोग अपनी व्यवस्था कर सकते हैं।

अगर किसी के पास निजी कार भी है तो उससे स्टेशन जाने के लिए जिला मजिस्ट्रेट या पुलिस प्रशासन से विशेष अनुमति लेनी होगी। जो वर्तमान में इतना आसान नहीं है। यदि कोई को अपने वाहन से स्टेशन जाने की अनुमति मिल भी जाती है, तो वह स्टेशन पर अपनी गाड़ी कहां पार्क करेगा। सरकार ने अभी तक इस मामले पर कोई भी निर्देश जारी नहीं किए हैं, ऐसे में यात्रियों के लिए यह बड़ी समस्या बन रही है।

बढ़ा दिया गया टिकट बुकिंग का समय

11 मई 2020 को शाम चार बजे भारतीय रेलवे केटरिंग और टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीकॉम) की वेबसाइट और रेल कनेक्ट एप्स से टिकटों की बुकिंग होगी, लेकिन अब बुकिंग समय बदल गया है। अब टिकटों की बुकिंग आज यानी 11 मई को शाम छह बजे से शुरू होगी। बुकिंग समय में बदलाव की जानकारी IRCTC की वेबसाइट और रेल कनेक्ट एप्स पर दी जा रही है। पहले यह बुकिंग शाम चार बजे से शुरू होनी थी।

मास्क के बिना प्रवेश नहीं

फेस मास्क पहने बगैर प्लेटफार्म पर यात्रियों को प्रवेश नहीं मिलेगा। थर्मल बैनर्स से चेकिंग के बाद ही यात्रा की इजाजत दी जाएगी। किसी भी तरह का लक्षण पाया जाने पर यात्रा नहीं करेंगे।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *