चित्र स्रोत: INDIA TV

यहां बताया गया है कि पीएम मोदी का 20 खरब रुपये का आर्थिक राहत पैकेज दुनिया में सबसे बड़ा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 20 लाख करोड़ रुपये का राहत पैकेज, जिसे कोरोनोवायरस महामारी लॉकडाउन से पीड़ित भारतीय अर्थव्यवस्था में जीवन लाने के लिए कहा जाता है, दुनिया की अर्थव्यवस्थाओं में सबसे बड़ी संख्या है। भारत की राहत प्रोत्साहन की घोषणा, जिसमें भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा उठाए गए उपाय भी शामिल हैं, पीएम मोदी ने विभिन्न क्षेत्रों में बड़े-टिकट सुधारों का वादा किया। राहत पैकेज का विवरण वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित किया जाएगा।

पीएम मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में भारत के कुल जीडीपी के 10 प्रतिशत के बराबर आर्थिक राहत पैकेज की बात कही।

Indiatvnews.com बताता है कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित राहत पैकेज दुनिया के सबसे बड़े लोगों में से एक है।

राहत पैकेज के प्रमुख तत्व

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज में चार प्रमुख घटक हैं:

– भूमि

– श्रम
– तरलता
– कानून

नकद समर्थन की घोषणा तो बहुत दूर

प्रधान मंत्री द्वारा 20 लाख करोड़ रुपये की कुल प्रोत्साहन की घोषणा की गई है, जो देश की जीडीपी का 10 प्रतिशत है। 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज में गरीब और महिलाओं और बुजुर्गों को मुफ्त खाद्यान्न का 1.7 लाख करोड़ रुपये का पैकेज शामिल है, जिसकी घोषणा पहले ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रिजर्व बैंक की तरलता उपायों और ब्याज दरों में कटौती के साथ की थी। जहां मार्च प्रोत्साहन जीडीपी का 0.8 फीसदी था, वहीं आरबीआई की ब्याज दरों में कटौती और तरलता बढ़ाने वाले उपायों का कुल जीडीपी का 3.2 फीसदी (करीब 6.5 लाख करोड़ रुपए) था।

नवीनतम व्यापार समाचार

कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई: पूर्ण कवरेज





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *