Vijay Hazare Trophy: पृथ्वी शॉ जबदस्त फॉर्म में चल रहे हैं.(Prithvi Shaw/Instagram)

Vijay Hazare Trophy Final: पृथ्वी शॉ विजय हजारे ट्रॉफी के इस सीजन में शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. अगर वह चोट के चलते बल्लेबाजी के लिए नहीं उतरते हैं, तो मुंबई की मुश्किलें काफी बढ़ सकती हैं.

नई दिल्ली. मुंबई के कप्तान पृथ्वी शॉ को रविवार को उत्तर प्रदेश के खिलाफ विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में क्षेत्ररक्षण के दौरान पैर में चोट लगने के कारण मैदान से बाहर ले जाया गया. मौजूदा टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर पृथ्वी को उत्तर प्रदेश की पारी के 24वें ओवर में पहली स्लिप में क्षेत्ररक्षण के दौरान चोट लगी. उत्तर प्रदेश के सलामी बल्लेबाज माधव कौशिक ने युवा लेग स्पिनर प्रशांत सोलंकी पर शॉट खेला तो गेंद जाकर पृथ्वी को लगी. गेंद पृथ्वी के बायें पैर के आगे के हिस्से (शिन) पर लगी और दायें हाथ का यह बल्लेबाज दर्द से कराहते हुए मैदान पर गिर गया.

पृथ्वी ने अब तक टूर्नामेंट में एक नाबाद दोहरे शतक सहित कुल चार शतक जड़े हैं. शॉ अभी तक टूर्नामेंट में 754 रन बना चुके हैं जिसमें नाबाद 105, नाबाद 227, नाबाद 185 और 165 रन शामिल है. फिजियो और टीम के साथी इसके बाद पृथ्वी को मैदान से बाहर ले गए. अभी यह पता नहीं चला है कि पृथ्वी मुंबई की पारी के दौरान बल्लेबाजी कर पाएंगे या नहीं.

यह भी पढ़ें:

IND VS ENG: वनडे सीरीज के लिए आज हो सकता है भारतीय टीम का ऐलान, विराट-रोहित ने नहीं मांगा आरामबड़ी खबर: आईपीएल 2022 में खेलेंगी 10 टीमें, मई में होगी नीलामी

उत्तर प्रदेश ने खिताबी मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. खबर लिखे जाने तक 38 ओवर में तीन विकेट खोकर 193 बना लिए हैं. उत्तर प्रदेश के सलामी बल्लेबाजों ने टीम को जबरदस्त दिलाई. माधव कौशिक और समर्थ सिंह ने पहले विकेट लिए 122 रनों की साझेदारी की. समर्थ सिंह का विकेट प्रशांत सोलंकी ने लिया. सिंह ने आउट होने से पहले 73 गेंदों में चार चौके और तीन छक्कों की बदौलत 55 रनों की पारी खेली. कप्तान करण शर्मा कुछ खास नहीं कर सके और तनुष कोटियान की गेंद पर बिना खाता खोले ही आउट हो गए. युवा बल्लेबाज प्रियम गर्ग ने 26 गेंदों में दो चौकों की मदद से 21 रनों की पारी खेली.




.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *