ख़बर सुनें

कोरोना वायरस महामारी ने मीडिया संगठनों की आर्थिक हालत को किस कदर बिगाड़कर रख दिया है इसका ताजा उदाहरण न्यूजीलैंड का सबसे बड़ा मीडिया संगठन है जिसे महज एक डॉलर में बेचा जाएगा। ‘स्टफ’ नाम का यह संगठन देश में कई अखबारों को छापने के अलावा एक लोकप्रिय समाचार वेबसाइट भी चलाता है, जिसमें 400 पत्रकारों समेत 900 कर्मचारी तैनात हैं।

कंपनी के सीईओ सिनेड बाउचर ने ऑस्ट्रेलियाई शेयर बाजार के लिए एक बयान में कहा कि एक डॉलर में ‘स्टफ’ की बिक्री महीने के अंत तक पूरी हो जाएगी। ‘स्टफ’ ने कोरोना वायरस महामारी से पहले वित्तीय चुनौतियों का सामना किया और तभी से विज्ञापन राजस्व में गिरावट देखी गई।

‘नाइन’ समूह के सीईओ ह्यूग मार्क्स ने कहा कि हम मानते हैं कि स्टफ के लिए स्थानीय स्वामित्व होना महत्वपूर्ण है और यह हमारा मानना है कि न्यूजीलैंड में प्रतिस्पर्धा और उपभोक्ताओं के हिसाब से यह सबसे सही होगा। उन्होंने कहा, यह वेलिंगटन में प्रिंटिंग प्लांट के स्वामित्व को बनाए रखेगा।

कोरोना वायरस महामारी ने मीडिया संगठनों की आर्थिक हालत को किस कदर बिगाड़कर रख दिया है इसका ताजा उदाहरण न्यूजीलैंड का सबसे बड़ा मीडिया संगठन है जिसे महज एक डॉलर में बेचा जाएगा। ‘स्टफ’ नाम का यह संगठन देश में कई अखबारों को छापने के अलावा एक लोकप्रिय समाचार वेबसाइट भी चलाता है, जिसमें 400 पत्रकारों समेत 900 कर्मचारी तैनात हैं।

कंपनी के सीईओ सिनेड बाउचर ने ऑस्ट्रेलियाई शेयर बाजार के लिए एक बयान में कहा कि एक डॉलर में ‘स्टफ’ की बिक्री महीने के अंत तक पूरी हो जाएगी। ‘स्टफ’ ने कोरोना वायरस महामारी से पहले वित्तीय चुनौतियों का सामना किया और तभी से विज्ञापन राजस्व में गिरावट देखी गई।

‘नाइन’ समूह के सीईओ ह्यूग मार्क्स ने कहा कि हम मानते हैं कि स्टफ के लिए स्थानीय स्वामित्व होना महत्वपूर्ण है और यह हमारा मानना है कि न्यूजीलैंड में प्रतिस्पर्धा और उपभोक्ताओं के हिसाब से यह सबसे सही होगा। उन्होंने कहा, यह वेलिंगटन में प्रिंटिंग प्लांट के स्वामित्व को बनाए रखेगा।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *