कोरोना वायरस (सांकेतिक फोटो)
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

ब्राजील ने अपने सार्वजनिक जगहों से कोरोना महामारी के आंकड़ों को हटा दिया है। दुनिया से दूसरा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश होने के बाद भी राष्ट्रपति जैयर बोलसोनारो आधिकारिक रिकॉर्ड में बदलाव किया है। ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक वेबसाइट से कोविड-19 का डाटा हटा दिया है। 

यही नहीं मंत्रालय ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या देना भी बंद कर दिया है। अमेरिका के बाद ब्राजील ही ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मामले हैं, यहां कोविड-19 के 6,72,000 से ज्यादा मामले हैं और मौत का आंकड़ा इटली को पछाड़ कर 36,000 के पार पहुंच गया है।

बोलसोनारो ने अपने ट्विटर हैंडल से जानकारी दी कि संचयी आंकड़ा देश की कोरोना स्थिति को सही ढंग से नहीं बता पा रहा है। इसलिए कोरोना के इलाज और सक्रिय मामलों की जानकारी देने के लिए एक नए सिस्टम की तैयारी की जा रही है। बोलसोनारो ने अपने देश में कोरोना के खतरे को कम किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय में मेडिकल एक्सपर्ट के साथ सेना के जवानों की भी तैनाती की गई है। 

सरकारी वेबसाइट से डाटा हटाने को लेकर ब्राजील के राष्ट्रपति और स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोई कारण नहीं दिया है। covid.saude.gov.br वेबसाइट के जरिए ब्राजील में कोरोना वायरस के मामलों में जानकारी मिलती थी। शुक्रवार को पेज बंद किया और शनिवार को नए फॉर्मेट के साथ दोबारा शुरू किया, जिसमें पिछले 24 घंटे के संक्रमित मामले, मौत का आंकड़ा और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या दी हुई थी।

शनिवार को ब्राजील में 27,075 कोरोना के नए मामले आए और शुक्रवार के आंकड़ों के मुताबिक 904 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई है। ब्राजील के प्रेस एसोसिएशन के प्रमुख पाउलो डी सोसा ने कहा कि महामारी के समय सरकार का जनता के सामने आंकड़ें रखना और पारदर्शिता रखना जरूरी है। अमेरिका के बाद ब्राजील ही ऐसा देश हैं जहां कोरोना से सबसे ज्यादा मामले हैं।

सार

  • अमेरिका के बाद ब्राजील में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले
  • ब्राजील ने अपनी वेबसाइट से कोरोना मामलों का आंकड़ा हटाया
  • बोलसोनारो ने नए प्रणाली के तहत आंकड़ों को जारी करने की बात कही

विस्तार

ब्राजील ने अपने सार्वजनिक जगहों से कोरोना महामारी के आंकड़ों को हटा दिया है। दुनिया से दूसरा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित देश होने के बाद भी राष्ट्रपति जैयर बोलसोनारो आधिकारिक रिकॉर्ड में बदलाव किया है। ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक वेबसाइट से कोविड-19 का डाटा हटा दिया है। 

यही नहीं मंत्रालय ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या देना भी बंद कर दिया है। अमेरिका के बाद ब्राजील ही ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मामले हैं, यहां कोविड-19 के 6,72,000 से ज्यादा मामले हैं और मौत का आंकड़ा इटली को पछाड़ कर 36,000 के पार पहुंच गया है।

बोलसोनारो ने अपने ट्विटर हैंडल से जानकारी दी कि संचयी आंकड़ा देश की कोरोना स्थिति को सही ढंग से नहीं बता पा रहा है। इसलिए कोरोना के इलाज और सक्रिय मामलों की जानकारी देने के लिए एक नए सिस्टम की तैयारी की जा रही है। बोलसोनारो ने अपने देश में कोरोना के खतरे को कम किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय में मेडिकल एक्सपर्ट के साथ सेना के जवानों की भी तैनाती की गई है। 

सरकारी वेबसाइट से डाटा हटाने को लेकर ब्राजील के राष्ट्रपति और स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोई कारण नहीं दिया है। covid.saude.gov.br वेबसाइट के जरिए ब्राजील में कोरोना वायरस के मामलों में जानकारी मिलती थी। शुक्रवार को पेज बंद किया और शनिवार को नए फॉर्मेट के साथ दोबारा शुरू किया, जिसमें पिछले 24 घंटे के संक्रमित मामले, मौत का आंकड़ा और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या दी हुई थी।

शनिवार को ब्राजील में 27,075 कोरोना के नए मामले आए और शुक्रवार के आंकड़ों के मुताबिक 904 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई है। ब्राजील के प्रेस एसोसिएशन के प्रमुख पाउलो डी सोसा ने कहा कि महामारी के समय सरकार का जनता के सामने आंकड़ें रखना और पारदर्शिता रखना जरूरी है। अमेरिका के बाद ब्राजील ही ऐसा देश हैं जहां कोरोना से सबसे ज्यादा मामले हैं।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *