• पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन पर 1993 में यौन उत्पीड़न करने का आरोप है
  • टारा रेड ने खुद के साथ बिडेना का भी पॉलीग्राफ टेस्ट कराने की बात कही

दैनिक भास्कर

08 मई, 2020, 05:19 बजे IST

वॉशिंगटन। जो बिडेन पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली तारा तारा ने बिडेन से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी छोड़ने को कहा है। टारा का कहना है कि ऐसे चरित्र वालों को राष्ट्रपति पद के लिए दावा नहीं करना चाहिए। पॉलीग्राफी टेस्ट (झूठ पकड़ने वाले टेस्ट) प्रदान करने के सवाल पर तारा ने कहा, ‘मैं इसके लिए तैयार हूं, लेकिन पहले बिडेन का परीक्षण करना चाहिए।’
दरअसल, गुरुवार को एक क्लिप रिलीज की गई। इसमें पत्रकार मेगन केली से तारा लाल कहती हैं, ‘जो बिडेन, प्लीज आगे बढ़ें और जवाबदेही तय करें। आपको संयुक्त राज्य के राष्ट्रपति पद के लिए इस तरह काबेक्टर के बारे में आगे नहीं बढ़ना चाहिए। ‘ बिडेन के कैंप के डिप्टी मैनेजर ने बयान जारी कर इन आरोपों को गलत बताया है।

तारा ने कहा- बिडेन ने 27 साल पहले यौन शोषण किया था
टारा रेड ने मार्च में आरोप लगाया था कि 27 साल पहले बिडेन ने उनका यौन शोषण किया था। तारा ने कहा था कि 1993 में वे सीनेट कार्यालय में काम करते थे। इस दौरान कैपिटल हिल ऑफिस के बेमेंट में बिडेन ने उनका यौन उत्पीड़न किया था। उन्होंने तब शिकायत भी दर्ज कराई थी। यह चार्ज बिडेन के राष्ट्रपति पद के प्रचार अभियान में सबसे बड़ा झटका है। हालांकि, बिडेन ने आरोप से इनकार किया है।

इंटरव्यू में टारा ने यौन शोषण के सबूत भी दिखाए
इंटरव्यू में टारा रेड ने यौन शोषण के सबूत भी दिखाए हैं। उन्होंने 1996 का कोर्ट का एक डिक्लेरेशन दिखाया है। तारा ने कहा कि उन्होंने अपने पूर्व पति को इसकी जानकारी दी थी। उन्होंने सैन लुइस ऑबिस्पो ट्रिब्यून की एक कटिंग दिखाई। हालांकि, बिडेन पर कोई शुल्क नहीं लगाया गया है। रेड के तब के पति अनोडर ड्रोनन ने कोर्ट डिक्लेरेशन में लिखा था कि रेड ने उन्हें बिडेन के कार्यालय में एक परेशानी के बारे में बताया था। यह परेशानी यौन शोषण से जुड़ी हुई थी।

37 प्रतिशत अमेरिकन शुल्कों को सही मानते हैं
मन्नमौथ विश्वविद्यालय का एक डेवलपर बुधवार को सामने आया। इसमें 37 प्रतिशत अमेरिकन टारा रेड के आरोपों को सही मानते हैं। 32 प्रतिशत लोगों का कहना है कि शायद आरोप सही नहीं हैं। वहीं, 31 प्रतिशत लोग ऐसे हैं जो किसी का पक्ष नहीं लेते हैं।

इस ईमेल में सामने आया है कि राष्ट्रपति पद के लिए बिडेन को 50 प्रतिशत लोगों का समर्थन है। मार्च में यह 48 प्रतिशत था। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को 41 प्रतिशत लोगों का समर्थन मिला है, जो मार्च में 45 प्रतिशत था। कोरोना महामारी के चलते ट्रम्प की पब्लिसिटी में यह गिरावट आई है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed