पाकिस्तान ने भारत को खारिज कर दिया इमदाद के पूर्वानुमान के रूप में शामिल करें पीओके गिलगित बाल्टिस्तान मुजफ्फराबाद में ब्रोडकास्ट मौसम रिपोर्ट – भारतीय मौसम विभाग की रिपोर्ट

Bytechkibaat7

May 9, 2020 , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,


पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (Wordake) के मीरपुर, मुजफ्फग्राम और गिलगिट-बाल्टिस्तान के मौसम का हाल बताने वाली भारतीय रिपोर्ट के बाद पाकिस्तान चिढ़ गया है। पाकिस्तान ने इसे कानूनी रूप से व्यर्थ कार्रवाई करार दिया और कहा कि इससे क्षेत्र की स्थिति नहीं बदली जा सकती है।

गौरतलब है कि सरकारी प्रक्षेपणकर्ता दूरदर्शन और आकाशवाणी ने शुक्रवार से अपने प्राइम टाइम न्यूज़ बुलेटिन में टैगके के इन क्षेत्रों के मौसम का हाल ही में शुरुआत कर दिया है। इससे तिलमिलाए पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि भारत द्वारा पिछले साल जारी किए गए कथित नक् राजनीतिक कारशों की तरह ही उसका यह कदम भी लॉन निरर्थक है।

देश में मौसम का पूर्वानुमान बताने वाली संस्था भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने जम्मू और कश्मीर के अपने मौसम संबंधी उप-विभाग का उल्लेख ‘जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिल्ड-बल्टिस्तान और मुजफ्फर्’ के रूप में करना शुरू कर दिया है।

आईएमडी के महानिदेशक एम महापात्रा ने कहा कि जब से जम्मू कश्मीर के अलग-अलग केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित हुआ है, उसके बाद से हीकेके के तहत इन क्षेत्रों के लिए दैनिक बुलेटिन में उल्लेख कर रहे हैं। अधिकारियों ने कहा कि इन क्षेत्रों का उल्लेख विशिष्ट रूप से जम्मू कश्मीर उप-मंडल के तहत हो रहा है। पाक कब्जे वाले कश्मीर में स्थित इन शहरों का जिक्र अब उत्तर पश्चिम डिविजन के संपूर्ण पूर्वानुमान में हो रहा है।

बता दें कि उत्तर पश्चिम डिविजन के तहत नौ उप-मंडल आते हैं, जिसमें जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली-चंडीगढ़-हरियाणा, उत्तराखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी राजस्थान शामिल हैं। भारत के इस कदम का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि हाल ही में इसने एक बार फिर अपनी स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि टैगके भारत का हिस्सा है।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने कहा, जल्द ही निजी समाचार केंद्र भी टैगके के शहरों के मौसम पर रिपोर्ट जारी करना शुरू कर देगा।

पाक ने कहा: चिनाब में कम पानी छोड़ा जा रहा है, भारत ने आरोप को बेबुनियाद बताया
वहीं दूसरी तरफ, पाकिस्तान ने कहा है कि चिनाब नदी में छोड़े जाने वाले पानी में बहुत कमी आई है लेकिन उसके इस दावे को भारत ने बेबुनियाद बताया। सिंधु नदी के मामलों के भारतीय औचित प्रदीप कुमार को बुधवार को प्रेषित पत्र में उनके पाकिस्तानी समकक्ष ने यह दावा किया। लेकिन कुमार ने कहा कि यह मामला को देखा गया है और पाकिस्तान का यह दावा एक और बेबुनियाद बात है। उन्होंने कहा कि नदी का प्रवाह सामान्य है और इसमें कोई विशेष परिवर्तन नहीं है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *