• बाइक और स्कूटर कारोबार ‘जंप’ को ‘लाइम’ के हाथ बेच रहा है
  • उबर ने की है 14 प्रति कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की घोषणा

दैनिक भास्कर

08 मई, 2020, 04:56 अपराह्न IST

नई दिल्ली। एप आधारित परिवहन सेवा प्रदाता कंपनी उबर को चालू कैलेंडर वर्ष की पहली तिमाही (जनवरी-मार्च) में 2.9 अरब डॉलर का घाटा हुआ। नए कोरोनावायरस की महामारी के कारण विदेशी मुद्रा में कंपनी के निवेश पर बहुत बुरा असर हुआ है। बैलेंस शीट को ठीक रखने के लिए कंपनी कॉस्ट कटिंग के रास्ते पर चल रही है और अपने खाद्य पदार्थों के कारोबार पर ध्यान दे रही है।

बाइक और स्कूटर कारोबार ‘जंप’ को बेच रहा है
कंपनी ने गुरुवार (भारतीय समय के अनुसार शुक्रवार सुबह) को कहा कि वह अपनी बाइक और स्कूटर कारोबार ‘जंप’ को बेच रही है। जंप की बिक्री लाइम को की जाएगी। लाइम में उबर 8.5 करोड़ डॉलर का निवेश कर रहा है। जंप को एक तिमाही में लगभग 6 करोड़ डॉलर का घाटा हो रहा था।

उबर ईट्स में अधिक संसाधन लगा रहे हैं कंपनी
उबर के सीईओ दारा खोसरोशाही ने एक बयान में कहा कि महामारी के कारण हमारा परिवहन कारोबार बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। अपने बैलेंसशीट को ठीक रखने के लिए हमने तुरंत कदम उठाए हैं और उबर ईट्स में अधिक संसाधन लगाए हैं। खाद्य पेशकश कारोबार में तेजी दिख रही है। इसके साथ ही बाजार फिर से खुल रहा है। हम उत्साहित हैं।

3,700 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है उबर
सैन फ्रांसिस्को की कंपनी उबर ने बुधवार को कहा था कि वह 3,700 कर्मचारियों को नौकरी पर से हटा रही है। यह संख्या उबर के कुल कर्मचारियों का 14 प्रतिशत है। अमेरिका में उबर की मुख्य प्रतियोगी कंपनी लिफ्ट ने पिछले महीने कहा था कि मांग में गिरावट के कारण वह 982 कर्मचारियों (कुल कर्मचारियों का 17 प्रतिशत) को नौकरी से हटा रही है। पश्चिम एशिया में उबर की सहायक कंपनी करीम ने अपने 31 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है।

कुल आय 14 प्रतिशत बढ़कर 3.54 अरब डॉलर पर पहुंच गया
कंपनी को पहली तिमाही में 3.54 अरब डॉलर की आय हुई, जो पिछले साल की समान अवधि के 14 प्रतिशत से अधिक है। कंपनी के खाद्य हवार अनवरत की आय इस दौरान 53 फीसदी बढ़ी, क्योंकि लॉकडाउन में घर बैठे लोगों ने ज्यादा खाद्य आपूर्ति की। जिन देशों में कंपनी का खाद्य पदार्थ कारोबार के फायदे में जा रहा था, उन देशों में उबर खाद्य पेशकश से बाहर निकल गया है। इन देशों में चेक रिपब्लिक, मिस्र, होंडुरास जैसे देश शामिल हैं।

खाद्य पदार्थों के कारोबार की बुकिंग में 54% की वृद्धि हुई, ग्रिड कारोबार की बुकिंग में 3% गिरी हुई
खोसरोशाही ने कहा कि हमारा परिवहन व्यवसाय बहुत ख़राब चल रहा है। हमारे ईट्स कारोबार में तेजी से चल रहा है। कंपनी की कांस्टेंट डोसी के आधार पर कुल बुकिंग 8 प्रति 15.8 अरब डॉलर दर्ज की गई। खाद्य अधिसूचना कारोबार की बुकिंग में 54 फीसदी तेजी दर्ज की गई, जबकि ग्रिड कारोबार की बुकिंग में 3 फीसदी गिरावट दर्ज की गई।

विदेशी निवेश का मूल्य 2.1 अरब डॉलर गिरा
पहली तिमाही में विदेशी द्वीपों में उबर के निवेश के मूल्य में 2.1 अरब डॉलर की गिरावट दर्ज की गई। कंपनी ने चीन की राइड हेलिंग कंपनी दीदी और सिंगापुर की कंपनी ग्रैब में निवेश किया है। इसके साथ ही कुछ अन्य देशों में भी कंपनी ने निवेश किया हुआ है।

जून तिमाही में बहुत खराब प्रदर्शन की आशंका
अप्रैल-जून तिमाही में भी कंपनी का प्रदर्शन खराब रहने की आशंका है। खोसरोशाही ने कहा कि जीवन में पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले राइड में 80 प्रति की गिरावट आई है। हालांकि पिछले तीन सत्रों से राइड्स में वृद्धि दर्ज की जा रही है। अमेरिका में व्यावसायिक गतिविधियों की फिर से शुरुआत करने वाले दो प्रांतों जॉर्जिया और टेक्सास के बड़े शहरों में बुकिंग में सबसे निचले स्तर के मुकाबले क्रमशः: 43 फीसदी और 50 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है।

खाद्य कारोबार की मांग अप्रैल में 89 प्रतिशत बढ़ी
उन्होंने कहा कि ईट्स कारोबार की मांग अप्रैल में 89 फीसदी बढ़ी है। इसमें भारतीय कारोबार शामिल नहीं है। मध्य मार्च के मुकाबले मांग में भारी तेजी दर्ज की गई है। अमेरिका में उबर के बेहतर भविष्य में ग्रॉसरी नोट कारोबार की भी महत्वपूर्ण भूमिका रह सकती है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *