• रुपया-डॉलरर्न्रैक्ट्स की आठ से दूसरे देशों में चले गए अधिकांश कारोबार वापस भारत आ जाने की उम्मीद है
  • पूरी दुनिया के कारोबारियों के लिए हर समय क्षेत्र में हर दिन 22 घंटे के लिए उपलब्ध रहेगा ये कांट्रैक्ट्स

दैनिक भास्कर

08 मई, 2020, 07:48 बजे IST

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को दो प्रमुख राष्ट्रवादी एक्सचेंज पर पर-डॉलर वायदा और विकल्प कांट्रैक्टैक्ट लॉन्च किया। ये दो आंतरिक एक्सचेंज हैं- पटई का भारत आईएनएक्स और एनएसई का एनएसई-आईएफएससी। सीतारमण ने वीडिया कान्फ्रेंस के जरिये गांधीनगर के गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस सेंटर टेक-सिटी (गिफ्ट सिटी) के इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर (आईएफएससी) में इन कांटों को लॉन्च किया।

आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि होगी, रोजगार में इजाफा होगा
पिछले लगभग एक दशक में भारत से जुड़ी वित्तीय सेवाओं के बाजार का एक बड़ा हिस्सा दूसरे देशों के आंतरिक वित्तीय केंद्रों में चला गया है। इन पुरस्कारों को भारत लाने वाले देश के लिए फायदेमंद है, क्योंकि इससे देश में आर्थिक आंदोलनों में बढ़ेगी और रोजगार में भी इजाफा होगा। इसके लिए गिफ्ट-आईएफएससी के एक्सचेंज पर जाने-डॉलर कांट्र्रैक्टर लॉन्च करना एक सही दिशा में उठाया गया कदम है।]

पूरी दुनिया के कारोबारियों के लिए 22 घंटे के लिए उपलब्ध रहेगा ये कांट्रैक्ट्स
ये गिफ्ट-आईएफएससी से पूरी दुनिया के कारोबारियों के लिए हर समय जोन में हर दिन 22 घंटे के लिए उपलब्ध रहेंगे। गिफ्ट-आईएफएससी में ट्र्रेडिंग का विश्वस्तरीय वातावरण है और इसकी कर प्रणाली भी प्रतिस्पर्धी है। इसलिए माना जा रहा है कि रुपया-डॉलर कांट्रैक्ट्स की आठ से दूसरे देशों में चले गए कारोबार का एक बड़ा हिस्सा भारत आ जाएगा। इससे बड़े वैश्विक व्यापारियों भारत में ट्र्रेड करने लगेंगे और भारत का आईएफएससी पूरी दुनिया से जुड़ जाएगा।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *