वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन
अपडेटेड सन, 10 मई 2020 08:26 AM IST

ख़बर सुनता है

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऑल एंड इंफेक्शियस डिसीज के निदेशक और व्हाइट हाउस की कोरोनावायरस टास्क फोर्स के सदस्य डॉ। एंथोनी फौसी रविवार से अपने क्वारंटीन (एकांतवास) की शुरुआत करेंगे। उन्होंने बताया कि वह व्हाइट हाउस के उस कर्मचारी के संपर्क में आए हैं, जिनकी टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
डॉ फौसी का कहना है कि वह पॉजिटिव कर्मचारी के कम जोखिम वाले संपर्क में आए हैं। कम जोखिम वाले संपर्क का मतलब है कि वह उस समय उस शख्स के संपर्क में नहीं आई जब उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई या जब वायरस से संक्रमित होने की आशंका थी।

फौसी डॉ। स्टीमिंग्टन की तरह क्वारंटीन की पूरी अवधि में नहीं रहेगी। डॉ। खाद्य एवं औषधि प्रशासन के आयुक्त हैं। वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए व्यक्ति के संपर्क में आए थे। इसके अलावा रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के निदेशक डॉ रॉबर्ट रेडफील्ड व्हाइट हाउस में कोविद -19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने के बाद दो हफ्तों के लिए खुद को आइसोलेट करेंगे।

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार अधिकारियों ने उन व्यक्तियों की पहचान उजागर नहीं की है जिनके संपर्क में शैतान और रेडफील्ड आए हैं। हालांकि उप राष्ट्रपति माइक पेंस की राष्ट्रपति सचिव केटी मिलर शुक्रवार को कोरोना से आश्रय पाए गए। वे अक्सर व्हाइट हाउस की कोरोनावायरस टास्क फोर्स की बैठकों में शामिल होते रहे हैं।

फौसी का कहना है कि वह एहतियातन मॉडिफाइड क्वारंटीन में रहेगी। इसका मतलब है कि वह घर पर रहकर टेलिवर्क करेगा और 14 दिन तक पूछे जाने वाले प्रश्न करेगा। उन्होंने कहा कि वे राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान में स्थित अपने कार्यालय भी जा सकते हैं, जहां वे अकेले व्यक्ति होंगे। वे रोजाना कोरोना जांच कराएंगे। उन्होंने बताया कि उनकी कल की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

फौसी ने कहा कि यदि उन्हें व्हिट हाउस या कैपिटल हिल कहा जाता है तो वह पूरी सावधानी बरतते हुए वहां जाएगी। अगले सप्ताह कोरोनावायरस को लेकर सीनेट की सुनवाई में फौसी के गग्रेशन देने की उम्मीद है। वहीं रेडफील्ड और वन अब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपनी गग्रन्थ विल।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऑल एंड इंफेक्शियस डिसीज के निदेशक और व्हाइट हाउस की कोरोनावायरस टास्क फोर्स के सदस्य डॉ। एंथोनी फौसी रविवार से अपने क्वारंटीन (एकांतवास) की शुरुआत करेंगे। उन्होंने बताया कि वह व्हाइट हाउस के उस कर्मचारी के संपर्क में आए हैं, जिनकी टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

डॉ फौसी का कहना है कि वह पॉजिटिव कर्मचारी के कम जोखिम वाले संपर्क में आए हैं। कम जोखिम वाले संपर्क का मतलब है कि वह उस समय उस शख्स के संपर्क में नहीं आई जब उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई या जब वायरस से संक्रमित होने की आशंका थी।

फौसी डॉ। स्टीमिंग्टन की तरह क्वारंटीन की पूरी अवधि में नहीं रहेगी। डॉ। खाद्य एवं औषधि प्रशासन के आयुक्त हैं। वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए व्यक्ति के संपर्क में आए थे। इसके अलावा रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के निदेशक डॉ रॉबर्ट रेडफील्ड व्हाइट हाउस में कोविद -19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने के बाद दो हफ्तों के लिए खुद को आइसोलेट करेंगे।

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार अधिकारियों ने उन व्यक्तियों की पहचान उजागर नहीं की है जिनके संपर्क में शैतान और रेडफील्ड आए हैं। हालांकि उप राष्ट्रपति माइक पेंस की राष्ट्रपति सचिव केटी मिलर शुक्रवार को कोरोना से आश्रय पाए गए। वे अक्सर व्हाइट हाउस की कोरोनावायरस टास्क फोर्स की बैठकों में शामिल होते रहे हैं।

फौसी का कहना है कि वह एहतियातन मॉडिफाइड क्वारंटीन में रहेगी। इसका मतलब है कि वह घर पर रहकर टेलिवर्क करेगा और 14 दिन तक पूछे जाने वाले प्रश्न करेगा। उन्होंने कहा कि वे राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान में स्थित अपने कार्यालय भी जा सकते हैं, जहां वे अकेले व्यक्ति होंगे। वे रोजाना कोरोना जांच कराएंगे। उन्होंने बताया कि उनकी कल की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

फौसी ने कहा कि यदि उन्हें व्हिट हाउस या कैपिटल हिल कहा जाता है तो वह पूरी सावधानी बरतते हुए वहां जाएगी। अगले सप्ताह कोरोनावायरस को लेकर सीनेट की सुनवाई में फौसी के गग्रेशन देने की उम्मीद है। वहीं रेडफील्ड और वन अब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपनी गग्रन्थ विल।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *