• अमेरिका में 24 घंटे में 2073 लोगों की जान चली गई, यहां मृतकों की संख्या 75 हजार के करीब हो गई है।
    बाजार खुलते समय में जोंस 23925, नैस्डैक 8971 और एसएंडपी 2885 अंक पर कारोबार कर रहे थे।

दैनिक भास्कर

07 मई, 2020, 07:10 बजे IST

न्यूयॉर्क। गुरुवार को अमेरिकी बाजार बढ़ाने के साथ खुला। जोंस 1.10 प्रति की वृद्धि के साथ 261 अंक ऊपर खुला। नैस्डैक 1.32 प्रति की बढ़त के साथ 117 अंक ऊपर और एसएंडपी 1.30 फीसदी की बढ़त के साथ 37 अंक ऊपर खुला। बाजार खुलते समय में जोंस 23925, नैस्डैक 8971 और एसएंडपी 2885 अंक पर कारोबार कर रहे थे। गुरुवार को दुनिया के रेस्तरां में ऊतरलों का माहौल रहा। हॉन्ग-कॉन्ग के हैंग सेंग में 156 अंक, चीन के शंघाई कम्पोसिट में 6 अंक, भारत के निफ्टी में 71 अंक और दक्षिण कोरिया के कोस्प में 0.15 अंक नीचे बंद हुआ। जापान का निक्केई 55 अंक की वृद्धि हो रही है। जबकि रूस, इटली, जर्मनी और फ्रांस के द्वीपों में इस समय वृद्धि बनी हुई है।

जापान का निक्केई 55 अंक की वृद्धि हो रही है। जबकि रूस, इटली, जर्मनी और फ्रांस के द्वीपों में इस समय वृद्धि बनी हुई है।

बुधवार को जमा के साथ बंद हुआ था

  • बुधवार को अमेरिकी बाजार ऊतरों का माहौल रहा। जोंस 0.91 प्रतिशत यानी 218 अंकों की गिरावट के साथ 23664 अंक पर बंद हुआ था।
  • नैस्डैक 0.51 प्रति अर्थात 45 अंकों की वृद्धि के साथ 8809 अंक की वृद्धि के साथ बंद हुआ जबकि एसएंडपी 0.70 फीसदी यानी 20 अंकों की गिरावट के साथ 2848 अंक नीचे बंद हुआ था।
नैस्डैक 0.51 प्रति अर्थात 45 अंक की वृद्धि के साथ 8809 अंक की वृद्धि के साथ बंद हुआ।

अमेरिका: न्यूयॉर्क में एक दिन में 232 जानें गईं

  • अमेरिका में 24 घंटे में 2073 लोगों की जान गई और 25 हजार 459 केस मिले। यहां मृतकों की संख्या 75 हजार के करीब हो गई है। वहीं, 12 लाख 63 हजार से ज्यादा खर्च हो चुके हैं। न्यूयॉर्क के गवर्नर पॉल क्यूमो ने बुधवार को बताया कि राज्य में एक दिन में 232 लोगों ने जान गंवाई है। इनमें से 207 की मौत अस्पताल में और 24 की नर्सिंग होम में हुई है। अब यहाँ संक्रमण और मौतों में कमी आ रही है।
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार को कहा कि व्हाइट हाउस कोरोना टास्क फोर्स खत्म नहीं किया जाएगा। एक दिन पहले उन्होंने और उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने इसे खत्म कर अर्थव्यवस्था खोलने वाला समूह बनाने की बात कही थी। लेकिन अब यह पैनल वैक्सीन बनाने पर ध्यान केंद्रीत करेगा।

कोरोना अब तक सबसे बुरा हमला: ट्रम्प

  • ट्रम्प ने बुधवार को कोरोना संक्रमण की तुलना पर्ल हार्बर पर हुई हमले से की। उन्होंने कहा कि यह अब तक देश पर हुआ सबसे बुरा हमला है। अगर चीन समय रहते कदम उठाता है तो यह महामारी पूरी दुनिया को अपने चपेट में नहीं लेती। 7 दिसंबर 1941 को हुए इस हमले में लगभग ढाई हजार अमेरिकियों की जान गई थी।

चीन में मौजूद अमेरिकी कंपनियों को भारत में लाने की कोशिश में सरकार

  • अमेरिका जहां चीन पर खोज में कोरोनावायरस फैलाने का आरोप लगा रहा है, वहीं भारत ने अमेरिकी कंपनियों को चीन से निकलकर भारत आने के लिए मनाने की कोशिश शुरू कर दी है। भारतीय अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने अप्रैल में 1,000 से अधिक अमेरिकी विदेशी कंपनियों से संपर्क किया और उन्हें चीन से व्यावसायिक गतिविधियों को हटाकर भारत लाने की पेशकश दी। ये कंपनियां 550 से अधिक उत्पाद बनाती हैं। सरकार का मुख्य ध्यान मेडिकल इक्विपमेंट इंडिया, खाद्य प्रसंस्करण इकाई, टेक्सटाइल्स, लेदर और ऑटो पार्ट्स निर्माता कंपनियों को आकर्षित करने पर।

कंपनियाँ भारत मेंगी तो बढेगागा रोजगार

  • सरकार यदि इन कंपनियों को भारत लाने में सफल रहती है, तो इससे लॉकडाउन से प्रभावित अर्थव्यवस्था में तेजी लाने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही जीडीपी में बढ़ते सेक्टर के योगदान को वर्तमान 15 प्रति से बढ़ाकर 25 प्रति तक ले जाने में भी मदद मिलेगी। महामारी के कारण देश में 12 करोड़ से ज्यादा लोग बेरोजगार हो चुके हैं। इसलिए रोजगार बढ़ाना भी आज सरकार के लिए अत्यधिक आवश्यक कार्य हो गया है।

भारतीय बाजार में गुरुवार को गिरावट रही

  • सप्ताह में गुरुवार को कारोबार के चौथे दिन बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ। सुबह सेंसेक्स 8.06 अंक नीचे और निफ्टी 36.85 पॉइंट नीचे खुला। हालांकि, आठ के 15 मिनट में ही सेंसेक्स 322.88 अंक लुढ़क गया। दिनभर की आठ के बाद भी ऊपर नहीं आ पाया।
  • कारोबार के अंत में सेंसेक्स 242.37 अंक या 0.76% नीचे 31,443.38 पर और निफ्टी 71.85 पॉइंट या 0.78% नीचे 9,199.05 पर बंद हुआ। इससे पहले बुधवार को बाजार में उठान देखने को मिला था। कल कारोबार के अंत में सेंसेक्स 232.24 अंक ऊपर 31,685.75 और निफ्टी 65.30 पॉइंट ऊपर 9,270.90 पर बंद हुआ था।
कल कारोबार के अंत में सेंसेक्स 232.24 अंक ऊपर 31,685.75 और निफ्टी 65.30 पॉइंट ऊपर 9,270.90 पर बंद हुआ था।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *