मई में होंडा ने 1.15 लाख से अधिक वाहनों की बिक्री की

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण लॉकडाउन (Lockdown) लागू होने से चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बिक्री पहले ही प्रभावित हो चुकी है. हालांकि, कंपनी घरेलू दोपहिया उद्योग की दीर्घकालिक वृद्धि की संभावनाओं को लेकर आशावान बनी हुई है.

नई दिल्ली. दोपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (HMSI) को इस वित्त वर्ष में दोपहिया वाहनों (Two-Wheeler) की बिक्री में 10 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आने का अनुमान है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण लॉकडाउन (Lockdown) लागू होने से चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बिक्री पहले ही प्रभावित हो चुकी है. हालांकि, कंपनी घरेलू दोपहिया उद्योग की दीर्घकालिक वृद्धि की संभावनाओं को लेकर आशावान बनी हुई है. एक सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है कि कोविड-19 (COVID-19) महामारी के मद्देनजर अब अधिक लोग सुरक्षित रहने और परस्पर दूरी को बनाये रखने के लिये दोपहिया वाहन खरीदने की सोच रहे हैं.

10 प्रतिशत से अधिक की गिरावट की आशंका
एचएमएसआई के निदेशक (बिक्री एवं विपणन) ने यदविंदर सिंह गुलेरिया ने कहा, वास्तव में, पहली तिमाही खराब हो चुकी है और इसकी भरपाई अब शेष नौ महीने में आप नहीं कर सकते हैं. यह भी तथ्य है कि वाहन उद्योग पहले से ही सुस्ती की चपेट में था और कोविड-19 ने स्थिति को बिगाड़ दिया. उन्होंने कहा कि हालांकि मई में बिक्री फिर से शुरू हो गई है, लेकिन यह शून्य से कुछ कारोबार की शुरुआत है. गुलेरिया ने कहा, यह कहना कि इस साल बिक्री सकारात्मक होने वाली है, यह संभव नहीं है, इस साल वापसी संभव नहीं है. वित्त वर्ष 2020-21 में इसमें (बिक्री में) 10 प्रतिशत से अधिक की गिरावट रहने वाली है.

ये भी पढ़ें- बारिश में इस तरह रखें अपनी कार का ख़ास ख्याल, जानें पांच जरूरी टिप्ससामान्य मानसून से स्थिति में हो सकता है सुधार

उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले कुछ महीनों में सामान्य मानसून और कृषि में संरचनात्मक सुधारों के कारण स्थिति में सुधार हो सकता है, लेकिन फिर भी इसका लाभ अगले फसल चक्र में ही प्राप्त हो सकेगा. उन्होंने कहा, कृषि अर्थव्यवस्था वापसी कर सकती है, हम ट्रैक्टर की बिक्री में भी कुछ गिरावट देख रहे हैं, लेकिन गिरावट अभी भी 2020-21 में बनी रहेगी और हो सकता है कि हम अगले वित्त वर्ष में कुछ वृद्धि देख सकें क्योंकि तब तुलना का आधार (चालू वित्त वर्ष की बिक्री के आंकड़े) खुद ही बहुत कम रहेगा.

मई में होंडा ने 1.15 लाख से अधिक वाहनों की बिक्री की
मई में एचएमएसआई ने 1.15 लाख से अधिक वाहनों की बिक्री की. इस बारे में गुलेरिया ने कहा कि इनमें से एक तिहाई से अधिक खरीदारों ने परस्पर सुरक्षित दूरी का पालन करने के लिये सार्वजनिक परिवहन से पलायन किया है. उन्होंने कहा, खरीदारी के व्यवहार में बहुत अधिक बदलाव नहीं हुआ है. लगभग 55 प्रतिशत लोगों ने नकदी को तरजीह दी, जबकि 45 प्रतिशत लोगों ने वाहन लोन लिया.

ये भी पढ़ें- 70 हजार रुपए के बजट में मिल जाएंगे ये 5 स्कूटर, जानें इनके खास फीचर्स



First published: June 7, 2020, 4:56 PM IST

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *