श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर रोमेश कालूवितर्णा की कहानी

एक ऐसा क्रिकेटर जो विकेट के पीछे धोनी (MS Dhoni) की तरह तेज था, आज वो जंगल में काम करता है, जानिये उस वर्ल्ड कप विजेता की दिलचस्प कहानी

नई दिल्ली. एक क्रिकेट खिलाड़ी जब तक मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करता है, तब तक दुनिया उसे सलाम करती है. फैंस उसके दीवाने होते हैं, लेकिन जब वो रिटायरमेंट लेकर क्रिकेट छोड़ देता है तो फिर वो धीरे-धीरे फैंस के दिमाग से गायब हो जाता है. जो खिलाड़ी रिटायरमेंट के बाद भी क्रिकेट से जुड़े रहते हैं तो फैंस उन्हें याद रखती है और जो इस खेल से दूर जाते हैं, उसे लोग भूल जाते हैं. आइए आपको बताते हैं एक ऐसे खिलाड़ी के बारे में जो विकेट के पीछे बिजली सा तेज था, जिसने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के दम पर अपनी टीम को वर्ल्ड चैंपियन (World Champion) बना दिया था, लेकिन आज वो खिलाड़ी शहर से काफी दूर एक जंगल में काम करता है और हाथियों की वजह से उसका परिवार चलता है.

जंगल में है रोमेश कालूवितर्णा का बिजनेस
हम बात कर रहे हैं श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर रोमेश कालूवितर्णा (Romesh Kaluwitharana) की, जिन्होंने श्रीलंका के लिए 49 टेस्ट, 189 वनडे मैच खेले. कालूवितर्णा रिटायरमेंट के बाद दूसरे खिलाड़ियों की तरह कोच या फिर कमेंटेटर नहीं बने, बल्कि उन्होंने जंगल में अपना बिजनेस शुरू किया. दरअसल रोमेश कालूवितर्णा का श्रीलंका के जंगलों में एक रिसॉर्ट है. कालूवितर्णा का रिसॉर्ट उदावलावा नेशनल पार्क के अंदर है, जो कि अपने हाथियों के लिए मशहूर है. कालूवितर्णा का ये होटल जंगल के बीचों-बीच 5 एकड़ में बना हुआ है. कालूवितर्णा के इस होटल में 14 कमरें हैं जहां कई जंगली हाथियों को करीब से देखने वाले शौकीन सैलानी ठहरते हैं.

अब आपको बताते हैं कि आखिरी क्यों रोमेश कालूवितर्णा (Romesh Kaluwitharana) ने जंगल में अपना रिसॉर्ट बनाया. दरअसल कालूवितर्णा को जंगलों से बहुत प्यार था. जब वो श्रीलंकाई टीम के लिए खेलते थे तो भी वो समय निकालकर अकसर जंगल सफारी पर जाते थे. रिटायरमेंट के बाद कालूवितर्णा ने अपना जंगल रिसॉर्ट खोलने का प्लान बनाया.परिवार पर किया था हाथियों ने हमला

बता दें कालूवितर्णा (Romesh Kaluwitharana) और उनके परिवार पर हाथियों का झुंड भी हमला कर चुका है. कालूवितर्णा ने एक इंटरव्यू में बताया था कि उनके परिवार पर 6 हाथियों ने हमला कर दिया था. उनका परिवार बाल-बाल बचा था. कालूवितर्णा के मुताबिक हाथियों का डर हरी पिच पर तेज गेंदबाजों का सामना करने से भी ज्यादा है.

कालूवितर्णा का करियर
रोमेश कालूवितर्णा (Romesh Kaluwitharana) ने श्रीलंका के लिए 49 टेस्ट में 3 शतकों की मदद से 1933 रन बनाए और 189 वनडे में इस खिलाड़ी ने 22.22 की औसत से 3711 रन बनाए, जिसमें दो शतक शामिल हैं. कालूवितर्णा बेहद मंझे हुए विकेटकीपर थे और उन्होंने टेस्ट में 93 कैच, 26 स्टंप किये, वहीं वनडे में उन्होंने 132 कैच और 75 स्टंप्स किए.

उड़ने वाली कार खरीदना चाहता है यह तूफानी क्रिकेटर, कारण सुनकर घूमा दिनेश कार्तिक का सिर



First published: June 9, 2020, 8:31 PM IST

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *